Sunday, July 14, 2024
HomeMiscellaneousकोहली का टी-20 से संन्यास:कहा- ये मेरा आखिरी टी-20 इंटरनेशनल मैच था;...

कोहली का टी-20 से संन्यास:कहा- ये मेरा आखिरी टी-20 इंटरनेशनल मैच था; 76 रन बनाकर फाइनल के गेमचेंजर बने

टी-20 वर्ल्ड कप फाइनल के बाद विराट कोहली ने टी-20 इंटरनेशनल से संन्यास ले लिया है। फाइनल में मिली जीत के बाद विराट ने कहा, ‘यह मेरा आखिरी टी-20 मैच था, इसलिए उसी तरह खेला। अब नई जनरेशन बागडोर संभाले।’ वह साउथ अफ्रीका के खिलाफ फाइनल के प्लेयर ऑफ द मैच रहे। उन्होंने 76 रन की अहम पारी खेली। विराट ने साउथ अफ्रीका के खिलाफ फाइनल में हीरो जैसी भूमिका निभाई। इससे पहले वर्ल्ड कप के 7 मैचों में उनका टोटल स्कोर 75 रन था। भास्कर ने पहले ही अपनी रिपोर्ट में इस बात की पूरी संभावना जाहिर की थी। इस रिपोर्ट में बताया गया था कि विराट क्यों बड़े मैचों के गेमचेंजर हैं। आप भी पढ़िए यह रिपोर्ट… कोहली की 5 मैच विनिंग परफॉर्मेंस 1. वनडे वर्ल्ड कप फाइनल 2011
मुंबई के वानखेड़े में श्रीलंका के खिलाफ इंडिया 275 रन का पीछा कर रही थी। सचिन तेंदुलकर और वीरेंद्र सहवाग आउट हो चुके थे। सिर्फ 31 रन बने थे। पार्टनरशिप चाहिए थी। कोहली ने सिर्फ 35 रन की पारी खेली, लेकिन गंभीर के साथ मिलकर 83 रन की साझेदारी की। रन चेज में खराब शुरुआत से इंडिया को निकाल लिया। 2. चैंपियंस ट्रॉफी फाइनल 2013
इंग्लैंड-इंडिया का ये 50-50 ओवर का मैच बारिश के चलते 20-20 ओवर का हो गया था। इंडियन टीम 7 विकेट पर सिर्फ 129 रन बनाए। इसमें कोहली का योगदान 43 रन का था। दोनों टीमों की तरफ से हाईएस्ट स्कोरर कोहली थे। भारत यह मैच जीत गया। 3. टी-20 वर्ल्ड कप 2014 का सेमीफाइनल
ये सेमीफाइनल इंडिया और साउथ अफ्रीका के बीच खेला गया। साउथ अफ्रीका ने इंडिया को 173 रन का टोटल दिया था। विराट कोहली ने 72 रन की नाबाद पारी खेली। 19वें ओवर में टारगेट चेज कर लिया। 4. टी-20 वर्ल्ड कप 2016
भारत सुपर 10 मुकाबले में ऑस्ट्रेलिया से खेल रही थी। सेमीफाइनल पहुंचने के लिए इंडिया को जीत चाहिए थी। ऑस्ट्रेलिया ने 161 का टारगेट दिया था। भारत ने 14 ओवर में 94 रन बनाए थे। 6 ओवर में इंडिया का स्कोर 23 रन था। 138 जीत के लिए चाहिए थे और कोहली बैटिंग पर आए। शुरू में समय लिया, लेकिन बाद में तेजी से बल्लेबाजी की। 9 चौके और 2 सिक्स लगाए। 82 रन की नाबाद पारी खेलकर जीत दिला दी। 5. टी-20 वर्ल्ड कप 2022
ग्रुप 2 मुकाबले में भारत और पाकिस्तान आमने-सामने थीं। पाकिस्तान ने इंडिया को 160 रन का टारगेट दिया था। पाकिस्तानी पेसर्स ने 31 रन पर भारत के 4 विकेट गिरा दिए थे। कोहली क्रीज पर थे, नाबाद 82 रन की पारी खेली। हार्दिक के साथ 113 रन की साझेदारी की और भारत को असंभव सी जीत दिला दी। साउथ अफ्रीका के खिलाफ फिर इफेक्टिव हुए कोहली इफेक्टिव
विराट ने साउथ अफ्रीका के खिलाफ फाइनल मैच के पहले ही ओवर में मार्को यानसन के खिलाफ 3 बाउंड्री लगाई। यहीं से वह सेट नजर आए, लेकिन भारत ने 34 रन के स्कोर 3 विकेट गंवा दिए। विराट ने यहां से पारी संभाली, उन्होंने पहले अक्षर पटेल और फिर शिवम दुबे के साथ फिफ्टी पार्टनरशिप की। विराट 59 बॉल पर 76 रन बनाकर आउट हुए। उन्होंने अपनी पारी में 6 चौके और 2 सिक्स लगाए। उन्हीं की पारी के दम पर भारत ने 176 रन का चैलेंजिंग स्कोर बनाया। जिसे साउथ अफ्रीका चेज नहीं कर सका। फाइनल से पहले विराट ने साउथ अफ्रीका के खिलाफ तीनों फॉर्मेट में 60 मैच खेले थे। उनका एवरेज 55 से ज्यादा रहा, यानी हर इनिंग में उन्होंने इतने रन बनाए थे। टी-20 की 12 पारियों में उन्होंने 318 रन बनाए थे, उनका हाईएस्ट स्कोर 72 रन था। विराट ने अब अपने बेस्ट स्कोर से 4 रन ज्यादा बनाए और इस अपोनेंट के खिलाफ तीसरी हाफ सेंचुरी बनाकर प्लेयर ऑफ द फाइनल भी बने। फाइनल से जुड़ी अन्य खबरें भी पढ़ें… भारत और साउथ अफ्रीका का ट्रैक रिकॉर्ड:वर्ल्ड कप नॉकआउट में इंडिया का सक्सेस रेट 57%, SA 67% हारा; इस टूर्नामेंट में दोनों अजेय भारत और साउथ अफ्रीका के बीच आज रात 8 बजे से टी-20 वर्ल्ड कप का फाइनल होगा। टीम इंडिया को 2007 से इस टूर्नामेंट की ट्रॉफी का इंतजार है, वहीं साउथ अफ्रीका ने आज तक एक भी वर्ल्ड कप नहीं जीता। पूरी खबर पढ़ें… 2 चोकर्स में फाइनल जंग:भारत को 2011, साउथ अफ्रीका को 32 साल से वर्ल्ड कप का इंतजार; कौन हटाएगा अपना दाग? सदी के सबसे बड़े चोकर्स साउथ अफ्रीका के सामने आज दशक के सबसे बड़े चोकर्स भारत का सामना टी-20 वर्ल्ड कप में होगा। 1992 से व्हाइट बॉल क्रिकेट खेल रही अफ्रीकी टीम आज तक भी एक भी वर्ल्ड कप नहीं जीत सकी, वहीं टीम इंडिया को 2011 से वर्ल्ड कप का इंतजार है। पूरी खबर पढ़ें…

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments