Sunday, July 21, 2024
HomeMiscellaneousकोहली को नंबर-3 पर नहीं आना चाहिए- मैथ्यू हेडन:बोले- विराट पावरप्ले में...

कोहली को नंबर-3 पर नहीं आना चाहिए- मैथ्यू हेडन:बोले- विराट पावरप्ले में बेस्ट, न्यूयॉर्क में नहीं चले तो वेस्टइंडीज में चलेंगे

ऑस्ट्रेलिया के दिग्गज मैथ्यू हेडन ने भारत के विराट कोहली की ओपनिंग का बचाव किया। उन्होंने कहा कि विराट अनुभवी खिलाड़ी हैं, वह ओपनिंग में इस वक्त टीम के लिए बेस्ट हैं। वह न्यूयॉर्क में भले न चले हों, लेकिन वेस्टइंडीज में रन बनाएंगे। टी-20 वर्ल्ड कप के सुपर-8 स्टेज के लिए स्टार स्पोर्ट्स प्रेस रूम शो में हेडन ने इस सवाल का जवाब दिया। उनके साथ ईयन बिशप, मोर्ने मॉर्केल, पीयूष चावला और कृष्णमचारी श्रीकांत ने भी कुछ अहम सवालों के जवाब दिए। जानते हैं उन्होंने क्या कहा… विराट न्ययॉर्क में फेल, क्या वेस्टइंडीज की पिच पर भी मुश्किलें होंगी?
हेडन ने कहा, ‘विराट कोहली किसी भी कंडीशन में वर्ल्ड क्लास प्लेयर हैं। वेस्टइंडीज में जिम्मेदारी भरी पारी खेलने की जरूरत पड़ेगी, यहां 160-170 का स्कोर भी बहुत चैलेंजिंग होगा। मुझे लगता है कि विराट फिलहाल खुश हैं और अच्छे माइंडसेट से बैटिंग कर रहे हैं। विराट इससे पहले बहुत खराब दौर से भी वापसी कर चुके हैं। इसलिए मुझे नहीं लगता कि उनके लिए वेस्टइंडीज में रन बनाना मुश्किल होगा।’ क्या विराट को नंबर-3 पर उतरना चाहिए?
हेडन ने कहा- ‘विराट ने IPL में ओपनिंग करते हुए बहुत रन बनाए हैं और वह इस पोजिशन पर रन बना सकते हैं। मुझे नहीं लगता कि विराट को नंबर-3 पर उतारना एक अच्छा फैसला होगा। टी-20 में एक ओपनर का काम ही अटैक करना होता है, कोहली यह काम कर सकते हैं। अगर वह ऐसा करते हुए फेल हो जा रहे हैं तो मुझे नहीं लगता इसमें कुछ गलत है। इंडियन सिलेक्टर्स ने इससे पहले भी विराट से टी-20 सीरीज में ओपनिंग कराई थी। वह कोहली को इसी पोजिशन के लिए तैयार कर रहे थे। इसलिए उन्हें अब न्यूयॉर्क की पिच पर 3 खराब परफॉर्मेंस से जज नहीं करना चाहिए। वह अनुभवी खिलाड़ी हैं, आगे के मैचों में परफॉर्म करेंगे।’ इसी सवाल पर कृष्णमचारी श्रीकांत ने कहा, ‘विराट कोहली महान बल्लेबाज हैं, उनकी काबिलियत पर शक नहीं करना चाहिए। वह न्यूयॉर्क में नहीं चले, लेकिन आगे के मैचों के लिए उन्हें अकेला छोड़ देना चाहिए। कोहली किंग है और कमबैक करना जानते हैं।’ क्या कुलदीप यादव को मौका मिलना चाहिए?
पीयूष चावला ने इस पर कहा, ‘टीम इंडिया का जब सिलेक्शन हुआ था, तब कप्तान रोहित शर्मा ने कहा था कि वह वेस्टइंडीज में ही बताएंगे कि 4 स्पिनर्स क्यों लेकर जा रहे हैं। उन्होंने सुपर-8 स्टेज के वेन्यू देखकर ही यह फैसला लिया था। टीम ने अब तक अक्षर पटेल और रवींद्र जडेजा के रूप में 2 स्पिन बॉलिंग ऑलराउंडर्स खिलाए। अब समय आ गया है कि मोहम्मद सिराज या अर्शदीप सिंह में से किसी एक बैठाकर कुलदीप को मौका मिले। क्योंकि अब सभी मैच वेस्टइंडीज में ही होंगे। कुलदीप यहां की धीमी पिचों पर भारत के मैच विनर साबित होंगे।’ क्या वेस्टइंडीज में होंगे हाई स्कोरिंग मुकाबले?
साउथ अफ्रीका के दिग्गज मोर्ने मॉर्केल ने कहा, ‘वेस्टइंडीज में टर्निंग पिचें हैं, यहां 160 से 170 का स्कोर मैच विनिंग हो सकता है। ज्यादातर टीमों में कम से 2 स्पिनर्स तो जरूर हैं, साउथ अफ्रीका ने भी अपने 2 स्पिनर्स तबरेज शम्सी और केशव महाराज का बेहतरीन इस्तेमाल किया है। इसलिए वेस्टइंडीज में हाई स्कोरिंग मुकाबले मिलने की उम्मीद कम है।’ इसी सवाल पर वेस्टइंडीज के दिग्गज ईयन बिशप ने कहा, ‘मुझे नहीं लगता कि 200+ स्कोर बनाने में मुश्किल होगी। सेंट लूसिया में 2 बार 200+ स्कोर पार हुआ, यहां आगे भी मैच होंगे। अगर 200 नहीं तो 180 या 190 का स्कोर तो बन ही सकता है, इसलिए हाई स्कोरिंग मुकाबलों की उम्मीद की जा सकती है। खास तौर पर बारबाडोस में सुपर-8 के बहुत इंटरेस्टिंग मुकाबले होंगे।’ स्पोर्ट्स की यह खबर भी पढ़ें… क्या कोहली को नंबर-3 पर लौटना चाहिए:ओपनिंग में लगातार हुए फेल; तीसरे नंबर पर वर्ल्ड कप में बना चुके 1141 रन 1, 4 और 0…ये विराट कोहली के टी-20 वर्ल्ड कप 2024 के 3 स्कोर हैं। टूर्नामेंट इतिहास में विराट ने इनसे पहले 27 पारियां खेलीं, सभी में नंबर-3 पर उतरे और कभी भी 5 रन के अंदर आउट नहीं हुए, लेकिन जैसे ही उन्होंने ओपनिंग करनी शुरू की, 5 रन का आंकड़ा भी नहीं छू सके। पढ़ें पूरी खबर…

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments