Sunday, July 14, 2024
HomeMiscellaneousगंभीर टीम इंडिया के कोच का इंटरव्यू देने पहुंचे:क्रिकेट एडवाइजरी कमेटी से...

गंभीर टीम इंडिया के कोच का इंटरव्यू देने पहुंचे:क्रिकेट एडवाइजरी कमेटी से मिले, पहले कहा था- इंडियन कोच बनना सम्मान की बात

IPL 2024 चैंपियन कोलकाता नाइट राइडर्स के मेंटोर गौतम गंभीर ने टीम इंडिया के हेड कोच के लिए इंटरव्यू दिया है। ईएसपीएन क्रिकइन्फो ने बताया कि गंभीर ने मंगलवार को क्रिकेट एडवाइजरी कमेटी (CAC) के मेंबर्स से मुलाकात की। इस कमेटी में अशोक मल्होत्रा, जतिन परांजपे और सुलक्षणा नायक जैसे पूर्व क्रिकेट शामिल हैं। अभी तक यह साफ नहीं हो पाया है कि इस पोस्ट के लिए BCCI को कितनी एप्लीकेशन मिली हैं। एप्लीकेशन देने की आखिरी तारीख 27 मई थी। BCCI इंडियन टीम के लिए लंबे समय से कोच की तलाश कर रही है, क्योंकि टीम के मौजूदा हेड कोच राहुल द्रविड़ का कार्यकाल टी-20 वर्ल्ड कप के बाद खत्म हो रहा है। गंभीर ने कहा था- टीम इंडिया का कोच बनना सम्मान की बात हालही में अबू धाबी में हुए एक निजी प्रोग्राम में बच्चे के सवाल का जवाब देते हुए गंभीर ने कहा था कि टीम इंडिया का कोच बनना सम्मान की बात। मैं भारतीय टीम का कोच बनना पसंद करूंगा। अपनी राष्ट्रीय टीम को कोचिंग देने से बड़ा कोई सम्मान नहीं है। उन्होंने कहा था कि- जब आप भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व करते है तो आप दुनिया भर में 140 करोड़ से ज्यादा भारतीयों की नजर में रहते हैं। इससे बड़ा मोमेंट किसी के लिए और क्या हो सकता है।ये मैं नहीं हूं, जो भारत को वर्ल्ड कप जीतने में मदद करेगा, यह 140 करोड़ भारतीय हैं, जो भारत को विश्व कप जीतने में मदद करेंगे। अगर हर कोई हमारे लिए प्रार्थना करना शुरू कर दे और हम अपनी पूरी मेहनत से खेलना शुरू कर दें। गंभीर ने बतौर प्लेयर 2 वर्ल्ड कप और कप्तानी में 2 IPL जीते, मेंटॉर बनकर भी उठाई ट्रॉफी 42 साल के गंभीर IPL 2022 और 2023 में वे लखनऊ सुपर जाइंट्स के मेंटॉर थे। वहीं 2024 सीजन में KKR के साथ जुड़े। गंभीर ने LSG में रहते पहले दोनों सीजन में टीम को प्लेऑफ तक पहुंचाया। वहीं, सीजन 2024 में गंभीर की मेंटॉरशिप में KKR खिताब जीत ने आईपीएल ट्रॉफी उठाई है। गंभीर बतौर खिलाड़ी 2007 में भारत की टी-20 वर्ल्ड कप और 2011 में वनडे वर्ल्ड कप जीतने वाली टीम का हिस्सा थे। उन्होंने 2011 से 2017 तक सात IPL सीजन के लिए KKR की कप्तानी की। उन्होंने पांच बार प्लेऑफ के लिए भी क्वालिफाई किया। बतौर कप्तान उन्होंने साल 2012 और 2014 में दो खिताब जीते। हालांकि, उनके पास इंटरनेशनल या डोमेस्टिक लेवल पर कोचिंग का कोई अनुभव नहीं है। वे दो IPL फ्रेंचाइजी में कोचिंग स्टाफ के इंचार्ज रहे हैं। टीम इंडिया की कोचिंग से जुड़ी 4 बातें 1. आईपीएल के समय से गंभीर के साथ कई नामों की चर्चा
गौतम गंभीर के भारतीय टीम का कोच बनने के कयास आईपीएल के समय से ही लगाए जा रहे हैं। गंभीर के अलावा ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान रिकी पोंटिंग, जस्टिन लैंगर और स्टीफन फ्लेमिंग के भी इंडियन कोच बनने की चर्चा थी। BCCI के नियमों के मुताबिक अगर गंभीर टीम के हेड कोच बनते हैं, तो उन्हें KKR की मेंटरशिप छोड़नी पड़ेगी। 2. 2027 तक रहेगा नए कोच का कार्यकाल
टी-20 वर्ल्ड कप के दौरान नए हेड कोच का सिलेक्शन हो जाएगा। उनका कार्यकाल 1 जुलाई 2024 से शुरू होकर 31 दिसंबर 2027 तक रहेगा। इस दौरान टीम इंडिया को ICC के 5 टूर्नामेंट खेलने हैं। इनमें चैंपियंस ट्रॉफी, टी-20 वर्ल्ड कप और वनडे वर्ल्ड कप के साथ वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के 2 साइकिल शामिल हैं। 3. द्रविड़ 2021 में हेड कोच बने थे
BCCI ने राहुल द्रविड़ को नवंबर 2021 में भारत का हेड कोच बनाया गया। तब टीम इंडिया टी-20 वर्ल्ड कप के ग्रुप स्टेज से ही बाहर हो गई थी। 2022 के टी-20 वर्ल्ड कप में टीम सेमीफाइनल तक पहुंची थी। 2023 में वनडे वर्ल्ड कप के बाद द्रविड़ का कार्यकाल खत्म हो गया था, लेकिन टीम इंडिया के फाइनल में पहुंचने के कारण उनका कार्यकाल टी-20 वर्ल्ड कप तक बढ़ा दिया गया।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments