Sunday, July 14, 2024
HomeGovt Jobsजॉइंट प्रेस कॉन्फ्रेंस के बाद स्टूडेंट्स हिरासत में:NEET पेपर लीक को लेकर...

जॉइंट प्रेस कॉन्फ्रेंस के बाद स्टूडेंट्स हिरासत में:NEET पेपर लीक को लेकर आज देश भर में प्रदर्शन; राहुल गांधी ने संसद में बहस के लिए पीएम को लिखी चिट्ठी

NEET पेपर लीक और हाल ही में कैंसिल हुए UGC NET, NEET PG जैसे मुद्दे को लेकर सभी बड़े स्टूडेंट्स यूनियन अब साथ आ गए हैं। 2 जुलाई को स्टूडेंट्स यूनियन ने जॉइंट प्रेस कॉन्फ्रेंस की। प्रेस कॉन्फ्रेंस के बाद स्टूडेंट्स पटेल चौक मेट्रो स्टेशन पर संसद के घेराव के लिए इकट्ठा हुए लेकिन वे संसद पहुंचते उससे पहले ही पुलिस ने उन्हें हिरासत में ले लिया। विपक्ष नेता राहुल गांधी ने संसद में NEET पर बहस के लिए पीएम को चिट्ठी लिखी। NSUI प्रेसिडेंट वरुण चौधरी ने जॉइंट प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा- NTA के खिलाफ ऑल इंडिया स्टूडेंट्स फेडरेशन (AISF), AISA समेत इंडिया ब्लॉक स्टूडेंट्स ऑर्गेनाइजेशन के साथ मिलकर हम 3 जुलाई को देश भर में प्रदर्शन करेंगे। उन्होंने कहा, ‘हम NTA द्वारा किए गए घोटालों और भ्रष्ट आचरण और NEET छात्रों के मुद्दे को संबोधित करने के लिए यहां एकजुट हैं। हम चाहते हैं कि केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान जिम्मेदारी लें और पद से हट जाएं। प्रेस कॉन्फ्रेंस के बाद स्टूडेंट्स को हिरासत में लिया NEET पेपर लीक के खिलाफ AISA और KYS स्टूडेंट्स ने कल संसद तक प्रोटेस्ट मार्च करने वाले थे। प्रेस कॉन्फ्रेंस के बाद अलग-अलग ऑर्गेनाइजेशन से जुड़े स्टूडेंट्स पटेल चौक मेट्रो स्टेशन पर इकट्ठा हुए। लेकिन मार्च के शुरू होने से पहले ही 12 से ज्यादा स्टूडेंट्स को पुलिस ने हिरासत में ले लिया। एक पुलिस अधिकारी के मुताबिक, ‘प्रेस क्लब में प्रेस कॉन्फ्रेंस करने के बाद स्टूडेंट्स पटेल चौक मेट्रो स्टेशन पर इकट्ठा हुए, जहां से उन्होंने संसद की ओर मार्च करना शुरू किया। ऐसा करने की कोशिश कर रहे एक दर्जन से ज्यादा छात्रों को हिरासत में लिया गया। ‘इंडिया अगेंस्ट NTA’ के बैनर के साथ किया विरोध ये स्टूडेंट्स ‘इंडिया अगेंस्ट NTA’ के बैनर तले एकजुट हुए, पटेल चौक मेट्रो स्टेशन पर इकट्ठा हुए और ‘NTA विरोधी’ नारे लगाने लगे। इस विरोध प्रदर्शन में NEET-UG, PG परीक्षाओं में हो रही गड़बड़ी और परीक्षाएं कैंसिल होने का मुद्दा उठाया गया था। विरोध प्रदर्शन कर रहे स्टूडेंट्स ‘इंडिया अगेंस्ट NTA’ बैनर के साथ बड़ी संख्या में पिछले कई दिनों से जंतर मंतर पर जुट रहे हैं। स्टूडेंट्स NTA पर रोक लगाने और केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान के इस्तीफे की मांग कर रहे हैं। स्टूडेंट्स ने प्रदर्शन के दौरान NEET-UG परीक्षा दोबारा करवाने, और यूनिवर्सिटीज में पहले की तरह एंट्रेंस एग्जाम सिस्टम को बहाल करने की भी मांग की। ऑल इंडिया स्टूडेंट यूनियन AISA (लेफ्ट विंग से जुड़ी) , दिल्ली यूनिवर्सिटी के KYS मेंबर्स के साथ ही कई स्टूडेंट्स यूनियन ने इस प्रोटेस्ट में हिस्सा लिया। राहुल गांधी ने आज संसद में बहस के लिए पीएम मोदी को लिखी चिट्ठी राहुल गांधी ने 2 जुलाई को सोशल हैंडल एक्स पर लेटर ट्वीट कर 3 जुलाई को संसद में NEET पर बहस करने का अनुरोध किया है। चिट्ठी में राहुल ने लिखा- हमारा उद्देश्य 24 लाख NEET कैंडिडेट्स के हित में कंस्ट्रक्टिव तरीके से जुड़ना है, लेकिन दोनों ही सदनों ने इस पर बहस से इनकार कर दिया है। 24 लाख कैंडिडेटस हमसे न्याय की उम्मीद कर रहे हैं, हमें उन्हें जवाब देना चाहिए। पीएम बोले- NEET पेपर लीक मामले पर सख्‍ती से कार्रवाई होगी पीएम ने 2 जुलाई को NEET पेपर लीक मामले का संसद में जिक्र किया। उन्होंने कहा, ‘NEET पेपर लीक मामले पर सख्‍ती से कार्रवाई हो रही है, लगातार गिरफ्तारियां हो रहीं हैं।’ उन्होंने आगे कहा- केंद्र सरकार पहले ही कानून बना चुकी है। जरूरी कदम उठाए जा रहे हैं। NEET पर ये बात प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तब कही जब वे लोकसभा में राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव का जवाब दे रहे थे। 8 जुलाई को डी.वाई. चंद्रचूड़ की बेंच करेगी सुनवाई 8 जुलाई को NEET पेपर लीक मामले पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई होनी है। इस पर सुनवाई चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया डी.वाई. चंद्रचूड़ की बेंच करेगी। दरअसल, NEET पेपर लीक, परीक्षा में हुईं गड़बड़ियों और ग्रेस मार्क्स के मुद्दे पर लगाई गईं सभी याचिकाओं पर 8 जुलाई को एक साथ सुनवाई होनी है। NEET मामले में CBI ने 13 आरोपियों से की पूछताछ CBI ने बिहार जेल में बंद 13 आरोपियों से सोमवार को पूछताछ की। आरोपियों ने ‘मास्टरमाइंड कौन है’ इसको लेकर अलग-अलग जवाब दिए। CBI शुरुआत में 15 सवालों पर जांच कर रही है। इसमें आरोपियों के करीबी रिश्तेदारों के खातों की जांच भी की जा सकती है। CBI की इस जांच में ये भी सामने आया है कि ये गिरोह ऑपरेटिव सिस्टम की तरह काम कर रहा है इसमें पेपर पहुंचाने से लेकर रटवाने तक सभी काम अलग-अलग लोगों को सौंपे गए थे। NEET पेपर लीक मामले में CBI ने अब तक 6 लोगों को गिरफ्तार किया है। 27 जून को मनीष प्रकाश और आशुतोष पटना से गिरफ्तार किया था। इन्होंने कैंडिडेट को लीक पेपर रटवाने के लिए प्ले स्कूल बुक कराया था। यहीं से पेपर के जले टुकड़े भी मिले थे। 28 जून को हजारीबाग से 3 लोगों की गिरफ्तारी हुई। इनमें ओएसिस स्कूल के प्रिंसिपल एहसान उल हक, वाइस प्रिंसिपल इम्तियाज और पत्रकार जमालुद्दीन हैं। इस मामले में 5 राज्यों से 33 गिरफ्तारियां हो चुकी हैं। पढ़ें पूरी खबर… CBI ने गुजरात के 4 जिलों में छापेमारी की NEET पेपर लीक मामले में CBI ने 29 जून को गुजरात के 4 जिलों में 7 जगहों पर छापेमारी की। न्यूज एजेंसी ANI के मुताबिक आणंद, खेड़ा, अहमदाबाद और गोधरा जिलों में यह छापेमारी हुई। CBI ने 28 जून को झारखंड के हजारीबाग से ओएसिस स्कूल के प्रिंसिपल एहसान उल हक, वाइस प्रिंसिपल इम्तियाज और पत्रकार जमालुद्दीन को गिरफ्तार किया। एजेंसी को संदेह है कि इन्हीं ने NEET और UGC-NET का पेपर लीक किया है। CBI ने अब तक इस केस में पांच लोगों को गिरफ्तार किया है। इनमें झारखंड के 3 और बिहार के 2 लोग हैं। NEET विवाद से जुड़ी ये अहम खबरें भी पढ़ें… NEET पेपर लीक मामले में 13 आरोपियों से पूछताछ: CBI की टीम पहुंची थी बेउर जेल, आमने-सामने बैठाकर पूछे सवाल; 3 घंटे बाद निकली टीम NEET पेपर लीक मामले में सीबीआई की टीम पटना के बेऊर जेल पहुंची। यहां 13 आरोपियों से पूछताछ की है। CBI की टीम करीब 3 घंटे जेल में रही और सभी आरोपियों को आमने-सामने बैठाकर पूछताछ की। हजारीबाग के ओएसिस स्कूल के प्रिंसिपल डॉ. एहसानुल हक, मनीष प्रकाश, आशुतोष, चिंटू और मुकेश को CBI ने गिरफ्तार किया है। वहीं, कुल 7 आरोपियों को रिमांड पर लिया गया है। पूरी खबर पढ़ें NEET में 15-15 लाख लेकर डमी कैंडिडेट बने MBBS स्टूडेंट:झालावाड़ मेडिकल कॉलेज के 10 छात्र-छात्राएं पकड़े गए, 2 से मुंबई में चल रही पूछताछ NEET UG में 15-15 लाख रुपए लेकर डमी कैंडिडेट्स बने 10 मेडिकल स्टूडेंट को दिल्ली पुलिस और मुंबई क्राइम ब्रांच की टीम ने गिरफ्तार किया। इनमें से 8 की जमानत हो गई। वहीं दो स्टूडेंट से मुंबई क्राइम ब्रांच की टीम पूछताछ कर रही है। पूरी खबर पढ़ें

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments