Sunday, July 14, 2024
HomeGovt Jobsजॉब एजुकेशन बुलेटिन:NIA में इंस्‍पेक्‍टर, SI की भर्तियां निकलीं, हरियाणा ग्रुप...

जॉब एजुकेशन बुलेटिन:NIA में इंस्‍पेक्‍टर, SI की भर्तियां निकलीं, हरियाणा ग्रुप C, D भर्ती के 23 हजार उम्‍मीदवारों को दोबारा एग्‍जाम देना होगा

नमस्कार, आज टॉप जॉब्स में बताएंगे NIA और SGPGI में निकली भर्तियों के बारे में। करेंट अफेयर्स में जानेंगे भारत के पहले अंडरग्राउंड कोल गैसीफिकेशन प्रोजेक्ट के बारे में। टॉप स्टोरी में NEET UG एग्जाम का लेटेस्ट अपडेट और जानेंगे सुप्रीम कोर्ट ने कैसे हरियाणा राज्य सरकार के फैसले को पलट दिया है। करेंट अफेयर्स 1. भारत का पहला अंडरग्राउंड कोल गैसीफिकेशन प्रोजेक्ट शुरू
24 जून को कोयला मंत्रालय ने झारखंड के जामताड़ा जिले के कास्ता कोयला ब्लॉक में अंडरग्राउंड कोल गैसीफिकेशन (UCG) के लिए भारत का पहला पायलट प्रोजेक्ट लॉन्च किया। कोल इंडिया की सब्सिडियरी कंपनी ईस्टर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड ने इस प्रोजेक्ट की शुरुआत की है। यहां कोयले को मीथेन, हाइड्रोजन, कार्बन मोनोऑक्साइड और कार्बन डाइऑक्साइड जैसी गैस में बदला जाएगा। इस प्रोसेस के बाद ही कोयले से बिजली बनाई जाती है। 2. भर्तृहरि महताब 18वीं लोकसभा के प्रोटेम स्पीकर बने
24 जून को राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने भाजपा नेता भर्तृहरि महताब को 18वीं लोकसभा के प्रोटेम स्पीकर के रूप में शपथ दिलाई। 2024 लोकसभा चुनाव से पहले वे बीजू जनता दल (BJD) का हिस्सा थे। पिछले कार्यकाल में महताब श्रम, कपड़ा और कौशल विकास संबंधी स्थायी समिति के अध्यक्ष थे। भर्तृहरि महताब को लेखा समिति का सदस्य भी बनाया गया था। महताब ने अपनी शुरुआती पढ़ाई भद्रक में पूरी करने के बाद उत्कल यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएशन और इंग्लिश में मास्टर किया। वे अपने पिता के न्यूजपेपर ‘ओडिया दैनिक द प्रजातंत्र’ के मालिक और संपादक हैं। 3. गौरव बनर्जी सोनी पिक्चर्स के MD और CEO बने
24 जून को सोनी पिक्चर्स नेटवर्क्स इंडिया ने गौरव बनर्जी को मैनेजिंग डायरेक्टर (MD) और चीफ एग्जीक्यूटिव ऑफिसर (CEO) नियुक्त किया। गौरव की नियुक्ति एनपी सिंह की जगह हुई है, जिन्होंने 25 साल तक सोनी ग्रुप में काम किया है। गौरव बनर्जी फिलहाल डिज्नी प्लस हॉटस्टार के कंटेंट एग्जीक्यूटिव हैं। गौरव ने अपने करियर की शुरुआत मीडिया न्यूज चैनल में एंकर के तौर पर की थी। दिनभर के बाकी करेंट अफेयर्स के लिए यहां क्लिक करें… टॉप जॉब्स 1. नेशनल इंवेस्टिगेशन एजेंसी ने 114 पदों पर निकाली भर्ती, एज लिमिट 56 वर्ष
नेशनल इंवेस्टिगेशन एजेंसी (NIA) ने सब इंस्पेक्टर और इंस्पेक्टर के पदों पर भर्ती निकाली है। उम्मीदवार NIA की ऑफिशियल वेबसाइट nia.gov.in पर जाकर अप्लाई कर सकते हैं। आयु सीमा : अधिकतम 56 वर्ष। एजुकेशनल क्वालिफिकेशन : ग्रेजुएशन की डिग्री, दो साल का वर्क एक्सपीरियंस। 2. SGPGI लखनऊ में 419 वैकेंसी, लास्ट डेट 25 जून
उत्तर प्रदेश में संजय गांधी पोस्ट ग्रेजुएट इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस (SGPGI) लखनऊ की ओर से नर्सिंग ऑफिसर, स्टेनोग्राफर, टेक्नीशियन समेत अन्य पदों पर भर्ती निकली है। उम्मीदवार SGPGI लखनऊ की ऑफिशियल वेबसाइट sgpgims.org.in पर जाकर आवेदन कर सकते हैं। एजुकेशनल क्वालिफिकेशन : पद के अनुसार, 12वीं, इंजीनियरिंग, ग्रेजुएशन, कंप्यूटर का नॉलेज, बीएससी नर्सिंग या पोस्ट बेसिक नर्सिंग की डिग्री। आयु सीमा : सरकारी नौकरियों से जुड़ी ऐसी ही और खबरों के लिए यहां क्लिक करें… टॉप स्टोरी 1. हरियाणा में नौकरियों में 5 नंबर का बोनस असंवैधानिक करार
हरियाणा में सरकारी भर्ती परीक्षा में सामाजिक-आर्थिक आधार पर पिछड़े उम्मीदवारों को 5 मार्क्स का बोनस अंक दिए जाने के फैसले पर सुप्रीम कोर्ट ने रोक लगा दी है। सोमवार को दिए फैसले में कोर्ट ने कहा- यह असंवैधानिक है। हरियाणा सरकार ने कॉमन एलिजिबिलिटी टेस्ट (CET) में 1.80 लाख सालाना इनकम वाले परिवारों को 5 बोनस मार्क्स दिए थे। इससे पहले पंजाब एंड हरियाणा हाईकोर्ट की डबल बेंच ने इसे खारिज किया था। हाईकोर्ट ने कहा था- यह एक प्रकार से आरक्षण देने जैसा है। जब आर्थिक पिछड़ा वर्ग के तहत राज्य सरकार ने पहले ही आरक्षण का लाभ दिया है तो यह आर्टिफिशियल श्रेणी क्यों बनाई जा रही है। हाईकोर्ट के इसी फैसले के खिलाफ हरियाणा सरकार सुप्रीम कोर्ट गई थी। सरकार ने एग्जाम कराने वाले हरियाणा स्टाफ सिलेक्शन कमीशन (HSSC) के जरिए सुप्रीम कोर्ट में 4 पिटीशन दायर की थी। वहीं सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले से साल 2023 में निकाली गई ग्रुप C और D में नियुक्ति पा चुके 23 हजार युवाओं को दोबारा एग्जाम देना पड़ेगा। अगर वे पास नहीं हो पाए तो नौकरी से बर्खास्त हो जाएंगे। इन्हें भर्ती वाले साल में ही नियुक्ति भी दे दी गई थी। 2. NEET मामले में टेरर फंडिंग का शक, महाराष्ट्र में एक हिरासत में
NEET पेपर लीक मामले में टेरर फंडिंग का शक है। महाराष्ट्र में नांदेड़ की एंटी टेररिस्ट स्क्वाड (ATS) ने इस मामले में 4 लोगों के खिलाफ FIR दर्ज की है। इससे पहले ATS ने रविवार को लातूर में दो टीचर संजय तुकाराम जाधव और जलील उमरखां पठान को हिरासत में लेकर लंबी पूछताछ की थी। इसके बाद उन्हें छोड़ दिया गया। इनमें से जलील को देर रात फिर से हिरासत में ले लिया गया। इससे पहले आज सोमवार को NEET UG मामले की जांच ED को सौंपने की मांग पर सुप्रीम कोर्ट ने कोई आदेश नहीं दिया। जस्टिस एएस ओका और जस्टिस राजेश बिंदल की वेकेशन बेंच ने कहा कि मामले की अगली सुनवाई 8 जुलाई को होने दें। अभी कोई जल्दबाजी नहीं है। यह सुनवाई 10 जून को सुप्रीम कोर्ट में दायर शिवानी मिश्रा समेत 10 शिकायतकर्ताओं की याचिका पर ही थी। एडवोकेट मैथ्‍यूज नेदुम्‍परा ने एग्जाम में गड़बड़ियों की जांच ED को सौंपने और दोषियों पर मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट के तहत कार्रवाई किए जाने की अपील की थी। दूसरी तरफ NTA में सुधार के लिए बनी हाईलेवल कमेटी की आज सोमवार को पहली बैठक होगी। कमेटी में 7 मेंबर शामिल हैं और ISRO के चीफ के. राधाकृष्णन इसके प्रमुख हैं। ऐसी ही और खबरों के लिए यहां क्लिक करें…

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments