Sunday, July 21, 2024
HomeMiscellaneousटी20 वर्ल्डकप में ओमान के अयान खेल चुके हैं रणजी:भोपाल में रहता...

टी20 वर्ल्डकप में ओमान के अयान खेल चुके हैं रणजी:भोपाल में रहता है परिवार, बोले- IPL में खेलना चाहता हूं, मेरी फेवरेट टीम KKR

टी-20 वर्ल्ड कप में खेल रही ओमान टीम के टॉप स्कोरर अयान खान का कहना है कि वह दुनिया के सबसे बड़ी लीग IPL में खेलना चाहते हैं। उनकी फेवरेट टीम KKR है। मौका मिलने पर वह इसी टीम से खेलना चाहते हैं। अयान भोपाल के रहने वाले हैं और मध्य प्रदेश से रणजी खेल चुके हैं। आगे मौका नहीं मिलने पर वे ओमान चले गए और वहां की नेशनल क्रिकेट टीम से खेलने लगे। साथ ही वहां जॉब भी करने लगे। ओमान रविवार को स्कॉटलैंड से हार कर सुपर-8 से बाहर हो चुकी है। इस मैच में अयान खान ने 39 गेंदों पर 41 रनों की नाबाद पारी खेली। अयान ने दैनिक भास्कर से अपने करियर को लेकर बातचीत की। बातचीत के प्रमुख अंश… सवाल- आपने क्रिकेट खेलना कब शुरू किया और भारत में किस लेवल तक खेले?
जवाब- मेरी क्रिकेट की शुरुआत भोपाल में अरेरा क्रिकेट अकादमी से हुई। 1999 में मैंने अकादमी में जाना शुरू किया। 2004 में मैं हरियाणा में स्कूल नेशनल खेलने के लिए गया। उसके बाद मेरा सिलेक्शन भोपाल डिवीजन की अंडर-14 टीम में हुआ। फिर मेरा चयन अंडर-17 में भी हुआ। दो साल टीम के साथ रहा, पर मुझे चांस नहीं मिला। फिर मैं अंकुर क्रिकेट अकादमी में कोच ज्योति प्रकाश सर के पास ट्रेनिंग करने लगा। 2009-10 में अंडर-19 में मेरा आखिरी सीजन था। मैंने फर्स्ट मैच में शतक बनाया। उसके बाद मुझे स्टेट की अंडर-19 टीम के ट्रायल के लिए बुलावा आया। अमय खुरासिया उस समय चीफ कोच थे। वे मेरी बैटिंग से काफी प्रभावित हुए। उनको मेरा पुल शॉट काफी पसंद आया, जिसके बाद मेरा चयन मध्य प्रदेश की अंडर-19 टीम में हो गया। सेंट्रल जोन में मैं इंडिया का हाईएस्ट स्कोरर रहा। उसके बाद मेरा चयन सेंट्रल जोन टीम में हुआ। फिर मध्य प्रदेश की अंडर-22 टीम में सिलेक्शन हुआ। इस बीच मेरे घर में प्रॉब्लम आ गई। मेरे पापा और मेरे भाई दोनों की तबीयत खराब हो गई। ऐसे में मुझे क्रिकेट से ब्रेक लेना पड़ा। सवाल- आपको ओमान क्यों जाना पड़ा?
जवाब- 2015 में मैंने मध्यप्रदेश में सीनियर डिवीजन खेला और बेस्ट ऑलराउंडर रहा। मेरा चयन मुश्ताक अली ट्रॉफी के लिए मध्य प्रदेश की टीम में भी हुआ। उसके बाद रणजी ट्रॉफी टीम में हुआ, लेकिन मुझे अंडर-19 क्रिकेट के बाद उतना चांस नहीं मिल पा रहा था। मेरी ऐज भी बढ़ रही थी, ऐसे में मुझे डिसीजन लेना था कि आगे क्रिकेट खेलूं या जॉब करूं। 2015 में ही ओमान ने 2016 में होने वाले टी-20 वर्ल्ड कप के लिए क्वालिफाई किया। 2016 में मेरे एक जानने वाले ने मुझे ओमान में जॉब और वहां की कंपनी से खेलने का ऑफर दिया। आखिरकार साल 2017 में मैंने ओमान जाने का फैसला किया। जब मैं ओमान गया, तब ICC ने नियम में बदलाव किए कि किसी देश की टीम से खेलने के लिए वहां पर 3 साल ही रहना जरूरी है। पहले यह सात साल था। मुझे लगा कि यह अच्छा मौका है। ओमान में पहले ही साल से मैं उनकी प्रीमियर डिवीजन लीग में बेस्ट ऑलराउंडर रहा। दूसरे साल में मुझे वहां की नेशनल टीम के संभावितों में डाल दिया गया। वे नहीं चाहते थे कि मैं बीच सीजन में छोड़कर जाऊं। मैं दूसरे और तीसरे साल भी उनकी डिवीजन लीग में बेस्ट ऑलराउंडर रहा। उसके बाद मैं चौथे साल में दूसरा बेस्ट ऑलराउंडर रहा। उसी दौरान मैंने इंडियन रेलवे और इंडियन पोस्टल में फॉर्म भरा, वहां से भी कॉल आई, पर मैंने वापस इंडिया न जाने का फैसला किया। तब 2021 में हुए वर्ल्ड क्वालिफायर में मेरा डेब्यू हुआ। अगर मैं इंडिया वापस चला आता, तो शायद इंटरनेशनल क्रिकेट खेलने का मेरा सपना पूरा नहीं हो पाता। मेरा क्रिकेट करियर खत्म हो जाता। मैं किसी ऑफिस में जॉब करता और पार्ट टाइम क्रिकेट खेलता। ओमान में मुझे क्रिकेट की वजह से सम्मान मिला। मुझे कई विदेशी लीग में भी खेलने का मौका मिला है। शायद इंडिया वापस लौटने पर नहीं मिलता। सवाल- आपके फेवरेट प्लेयर कौन हैं और क्यों?
जवाब- मेरे फेवरेट प्लेयर बेन स्टोक्स हैं। वो मुझे काफी अच्छे लगते हैं क्योंकि वह मेरी तरह ऑलराउंडर हैं। मेरे फेवरेट मार्क स्टोयनिस भी हैं। हालांकि दोनों फास्ट बॉलर हैं और फाइटर प्लेयर हैं। मेरे फेवरेट प्लेयर सुरेश रैना भी हैं। जब मैं मध्य प्रदेश में था, तो उनसे मिल चुका हूं। तब मैं अंडर-24 मध्य प्रदेश टीम के साथ ट्रैवल कर रहा था। उन्होंने मुझे बैट और ग्लव्स भी दिया था। सवाल- क्या अब भी मौका मिले तो टीम इंडिया से खेलना चाहेंगे?
जवाब- टीम इंडिया से नहीं खेल पाने का अब भी मलाल है। कोई नहीं चाहता कि अपना देश छोड़कर कहीं और से खेले। स्पोर्ट्स मैन की इज्जत तब होती है, जब उसका अचीवमेंट बड़ा हो। मुझे इस पर भी गर्व रहेगा कि मैं वर्ल्ड कप में खेला। भारत में कई ऐसे टैंलेटेड प्लेयर हैं, जिन्हें मौका मिलना चाहिए था, पर नहीं मिल पाया। मुझे लगता है कि मैंने भोपाल में रहकर टाइम खराब नहीं किया। ओमान में मुझे इज्जत मिली। अगर एसोसिएट क्रिकेट कंट्री की बात की जाए, तो मुझे लोग जानते हैं। मेरी एक अलग पहचान है। सवाल- आप कई विदेशी लीग में खेले हैं? अगर IPL में खेलने का मौका मिले तो किस टीम से खेलना चाहेंगे?
जवाब- IPL में खेलना मेरा ड्रीम है। मैं चाहूंगा कि मुझे KKR से खेलने का मौका मिले। KKR की जर्सी मुझे काफी पसंद है। सवाल- आपके कजिन ब्रदर असलम शेर खान हॉकी प्लेयर रहे हैं, वह ओलिंपियन हैं, आप क्रिकेट में कैसे आए?
जवाब- हमारी जनरेशन के समय शारजाह कप होता था। उसको देखने की लोगों में होड़ लगी रहती थी। उस समय सचिन तेंदुलकर, सौरव गांगुली और राहुल द्रविड़ की बैटिंग, जवागल श्रीनाथ और वेंकटेश प्रसाद की बॉलिंग को देख कर मैं बड़ा हुआ हूं। मार्क वॉ, स्टीव वॉ और ब्रायन लारा इन सबको देखकर क्रिकेट की लत लग गई। मुझे लगा कि यही वह गेम है, जहां मैं कुछ कर सकता हूं।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments