Sunday, July 14, 2024
HomeMiscellaneousधोनी का 43वां बर्थडे आज:भारत को 3 ICC खिताब जिताए; सबसे ज्यादा...

धोनी का 43वां बर्थडे आज:भारत को 3 ICC खिताब जिताए; सबसे ज्यादा स्टंपिंग, सबसे ज्यादा मैचों में कप्तानी का रिकॉर्ड

इंडियन क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी का आज 43 साल के हो गए। 7 जुलाई, 1983 को जन्में धोनी ने 2020 में इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास लिया, लेकिन उनका IPL खेलना जारी है। धोनी अपनी कप्तानी में भारत को 3 ICC ट्रॉफी जिताने वाले इकलौते कप्तान हैं। यह रिकॉर्ड आज भी कायम है। 29 जून को भारत ने रोहित शर्मा की कप्तानी में दूसरी बार टी-20 वर्ल्ड कप जीता। टीम इंडिया ने 17 साल पहले धोनी की ही कप्तानी में पहली बार इस फॉर्मेट का वर्ल्ड कप जीता था। स्टोरी में जानेंगे तीनों फॉर्मेट में बतौर कप्तान और खिलाड़ी धोनी का सफर, साथ ही उनके 5 अटूट रिकॉर्ड्स… 2014 में टेस्ट खेलना छोड़ा
11 अप्रैल, 2008 को धोनी ने कानपुर में साउथ अफ्रीका के खिलाफ पहली बार टेस्ट में कप्तानी की। 3 टेस्ट की यह सीरीज 1-1 से ड्रॉ रही। धोनी ने 26 दिसंबर, 2014 को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मेलबर्न में आखिरी टेस्ट खेला। इस मुकाबले के ड्रॉ होते ही धोनी ने इस फॉर्मेट को अलविदा कह दिया। उनकी कप्तानी में भारत ने 27 टेस्ट जीते। वह टीम इंडिया के दूसरे सबसे सफल टेस्ट कप्तान हैं। दोहरा शतक लगाने वाले पहले भारतीय विकेटकीपर
2 दिसंबर, 2005 को धोनी ने श्रीलंका के खिलाफ चेन्नई में अपना टेस्ट डेब्यू किया। उन्होंने 30 रन बनाए। 2013 में इसी मैदान पर उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 224 रन बनाए। जो बतौर विकेटकीपर किसी भारतीय खिलाड़ी का पहला ही दोहरा शतक था। धोनी ने 90 टेस्ट में 4876 रन बनाए। 2007 में पहला टी-20 वर्ल्ड कप जिताया
2007 में ICC ने टी-20 फॉर्मेट का पहला वर्ल्ड कप शुरू कर दिया। भारत ने टूर्नामेंट में अपने सीनियर प्लेयर्स को नहीं भेजा। युवा टीम इंडिया की कमान एमएस धोनी को सौंपी गई। धोनी ने टीम को बखूबी लीड किया और देश को ट्रॉफी भी दिला दी। धोनी की कप्तानी में भारत ने 2016 में आखिरी वर्ल्ड कप खेला, लेकिन टीम वेस्टइंडीज से सेमीफाइनल हारकर बाहर हो गई। वेस्टइंडीज के खिलाफ ही 2016 में अमेरिका के मैदान पर धोनी ने आखिरी बार टी-20 कप्तानी की। धोनी ने सबसे ज्यादा 72 टी-20 में भारत की कमान संभाली। यह रिकॉर्ड भी अब तक नहीं टूटा। रोहित शर्मा ने 61 टी-20 में कप्तानी करने के बाद संन्यास ले लिया। 98 टी-20 में 2 ही फिफ्टी लगा सके
1 दिसंबर, 2006 को साउथ अफ्रीका के खिलाफ धोनी ने पहला टी-20 खेला। यह भारत का भी पहला ही टी-20 था। इस फॉर्मेट में उन्होंने शुरुआत से ही फिनिशर की भूमिका निभाई। इसलिए 98 टी-20 खेलने के बाद भी वह 2 ही फिफ्टी लगा सके। 27 फरवरी, 2019 को ऑस्ट्रेलिया को खिलाफ धोनी ने आखिरी टी-20 मैच खेला। इसमें भारत को हार मिली। 2017 में वनडे कप्तानी छोड़ी
2007 में भारत वनडे वर्ल्ड कप के ग्रुप स्टेज से ही बाहर हो गया। राहुल द्रविड़ ने इस फॉर्मेट की कप्तानी छोड़ दी। इस कारण टी-20 वर्ल्ड कप जिताने वाले धोनी को ही वनडे फॉर्मेट की कप्तानी भी मिल गई। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ बेंगलुरु में धोनी ने पहली बार वनडे कप्तानी की। धोनी की कप्तानी में भारत ने 2011 का वनडे वर्ल्ड कप जीता और 28 साल बाद वनडे फॉर्मेट का ICC खिताब अपने नाम किया। धोनी यहीं नहीं रुके, उन्होंने 2013 में भारत को चैंपियंस ट्रॉफी का खिताब भी जिताया। यह उनके करियर का आखिरी ICC खिताब भी साबित हुआ। 2016 में न्यूजीलैंड के खिलाफ वनडे सीरीज के बाद धोनी ने तीनों फॉर्मेट की कप्तानी विराट कोहली को सौंप दी। आखिरी वनडे में रनआउट हुए, भारत हारा
23 दिसंबर, 2004 को धोनी ने बांग्लादेश के खिलाफ अपना वनडे और इंटरनेशनल डेब्यू किया। वह खाता भी नहीं खोल सके और रनआउट हो गए। हालांकि, टीम इंडिया ने उन्हें आगे भी मौके दिए, जिसे धोनी ने बखूबी भुनाया। नंबर-3 पोजिशन पर शुरुआत करने के बाद धोनी ने करियर में ज्यादातर मैच फिनिशर की पोजिशन पर खेले। इसके बावजूद उन्होंने 10 हजार से ज्यादा रन बना दिए। 2019 में न्यूजीलैंड के खिलाफ वनडे वर्ल्ड कप सेमीफाइनल में धोनी 72 गेंद पर 50 रन बनाकर रनआउट हुए। भारत ने मैच 18 रन से गंवाया और टीम के वर्ल्ड कप जीतने की उम्मीद भी खत्म हो गई। धोनी ने इस मैच के बाद कोई इंटरनेशनल मैच नहीं खेला और 15 अगस्त, 2020 को सोशल मीडिया पोस्ट के जरिए अपना इंटरनेशनल रिटायरमेंट अनाउंस कर दिया। IPL में चेन्नई को 5 खिताब जिताए
एमएस धोनी ने इंटरनेशनल क्रिकेट में तो अपनी कप्तानी में भारत को 3 ICC खिताब दिलाए ही, IPL में भी उनकी कप्तानी शानदार रही। उन्होंने CSK और RPS टीम की 226 मैचों में कप्तानी की। उनकी कप्तानी में चेन्नई ने 5 खिताब जीते। 2024 का IPL शुरू होने के बाद धोनी ने ऋतुराज गायकवाड को CSK की कप्तानी भी सौंप दी। IPL से अब भी रिटायरमेंट नहीं लिया
धोनी 2008 से IPL खेल रहे हैं, उन्होंने अब तक इस टूर्नामेंट से रिटारयरमेंट नहीं लिया है। अब तक 264 IPL मुकाबलों में उन्होंने 5243 रन बनाए हैं। इनमें 2 फिफ्टी शामिल हैं। धोनी ने अब तक IPL को अलविदा नहीं कहा है, ऐसे में संभव है कि 43 साल की उम्र में वह 2025 का IPL भी खेलते नजर आ सकते हैं। धोनी के 5 अटूट रिकॉर्ड्स…

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments