Monday, July 22, 2024
HomeGovt Jobsबिहार में 19-22 जुलाई के बीच होगी शिक्षक भर्ती परीक्षा:पेपर लीक होने...

बिहार में 19-22 जुलाई के बीच होगी शिक्षक भर्ती परीक्षा:पेपर लीक होने की वजह से 20 मार्च को रद्द हुआ था एग्जाम; जानिए पूरा शेड्यूल

बिहार लोक सेवा आयोग की ओर से रद्द हुई शिक्षक भर्ती परीक्षा की तारीख का ऐलान हो गया है। ये परीक्षा 19 से 22 जुलाई के बीच होगी। इसे लेकर आयोग की ओर से नोटिस जारी किया गया है। 19, 20 और 21 जुलाई को एक ही शिफ्ट में परीक्षा होगी। वहीं, 22 जुलाई को दो शिफ्ट में एग्जाम लिया जाएगा। शिक्षक भर्ती के तीसरे चरण की परीक्षा में क्लास 1 से 5, 6 से 8, 9 से 10 और वर्ग 11 से 12 के कुल 87 हजार 774 पदों के लिए परीक्षा होगी। इसमें शिक्षा, समाज कल्याण तथा अनुसूचित जाति जनजाति कल्याण विभाग के विद्यालयों के पद शामिल हैं। पेपर लीक के कारण रद्द हुआ था एग्जाम तीसरे चरण की परीक्षा 15 मार्च को दोनों पालियों में हुई थी। इसका पेपर लीक हो गया था। इस दौरान पाया गया कि हजारीबाग के एक होटल के कई कमरों के अलावा मैरिज हॉल में 270 से अधिक अभ्यर्थियों को बिठाकर प्रश्नपत्र का उत्तर रटवाया जा रहा था। मौके से जब्त किए गए प्रश्न पत्र का मिलान बीपीएससी कार्यालय से प्राप्त प्रश्न पत्र से कराया गया, जो हूबहू पाया गया था। इसके बाद 20 मार्च को पूरी परीक्षा रद्द कर दी गई थी। तीसरे चरण की शिक्षक भर्ती परीक्षा में एक पद पर होंगे औसतन 6.62 अभ्यर्थी बीपीएससी द्वारा ली जाने वाली तीसरे चरण की शिक्षक भर्ती परीक्षा में इस बार 5,81, 305 अभ्यर्थियों ने आवेदन किया है। यह वैकेंसी 87 हजार 774 पदों के लिए निकली है। अगर औसत की बात करें तो इस परीक्षा में एक पद के लिए औसतन 6.62 आवेदकों ने आवेदन दिया है। प्राथमिक में 28,026 पद शामिल है। इसके लिए 16,0644 अभ्यर्थियों ने आवेदन किया है। मध्य में 19645 पद है। इसके लिए 21,3940 अभ्यर्थियों ने आवेदन किया है। माध्यमिक में 16970 पद है। इसके लिए 14,4735 अभ्यर्थियों ने आवेदन किया है। उच्च माध्यमिक में 22,373 पद है। इसके लिए 61986 अभ्यर्थियों ने आवेदन किया है। ये खबर भी पढ़िए… 15 मार्च की BPSC शिक्षक भर्ती परीक्षा रद्द:झारखंड में पेपर सॉल्व करते मिले थे 300 कैंडिडेट, परीक्षा की नई डेट आएगी बिहार लोक सेवा आयोग (BPSC) ने 15 मार्च की शिक्षक भर्ती परीक्षा (TRE-3) रद्द कर दी है। दोनों पालियों की परीक्षा रद्द कर दी गई है। वहीं, इस मामले में करीब 300 कैंडिडेट्स को जेल भेजा गया है। यह सभी झारखंड के हजारीबाग में पेपर सॉल्व करते पकड़े गए थे। इस मामले में EOU जांच कर रही है। उसकी रिपोर्ट पर बीपीएससी ने यह फैसला लिया है। पूरी खबर पढ़िए

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments