Monday, July 22, 2024
HomeMiscellaneousभारत को जीतने ही होंगे तीनों सुपर-8 मैच:सेमीफाइनल में बारिश के 70%...

भारत को जीतने ही होंगे तीनों सुपर-8 मैच:सेमीफाइनल में बारिश के 70% चांस, रिजर्व-डे नहीं; रद्द हुआ तो ग्रुप टॉपर खेलेगी फाइनल

टीम इंडिया को टी-20 वर्ल्ड कप में अपनी स्थिति मजबूत करने के लिए सुपर-8 में तीनों मैच जीतने ही होंगे। टीम आज रात 8 बजे से बांग्लादेश का सामना करेगी, वह पहले मैच में अफगानिस्तान को हरा चुकी है। भारत का तीसरा और आखिरी मैच ऑस्ट्रेलिया से होगा। टीम इंडिया को सुपर-8 में तीनों ही मैच इसलिए जीतने होंगे, क्योंकि भारत का सेमीफाइनल 27 जून को गुयाना में होगा। जहां बारिश के बहुत ज्यादा आसार है, मैच के लिए रिजर्व डे नहीं है। यानी सेमीफाइनल रद्द हुआ तो ग्रुप में सभी मैच जीतकर पॉइंट्स टेबल के टॉप पर रहने वाली टीम ही फाइनल में पहुंचेगी। जानते हैं भारत के सेमीफाइनल की राह और सभी समीकरण… भारत ने अफगानिस्तान को हराया, आज बांग्लादेश से सामना
भारत ने बारबाडोस की मुश्किल पिच पर अफगानिस्तान को 47 रन से हरा दिया। बड़ी जीत से टीम इंडिया ने अपना रन रेट तो 2.35 कर लिया, लेकिन टीम ग्रुप-1 के पॉइंट्स टेबल में दूसरे नंबर पर है। क्योंकि ऑस्ट्रेलिया ने अपने पहले मैच में बांग्लादेश को DLS मेथड के तहत 28 रन से हराया। टीम की जीत का अंतर से भारत से कम रहा, लेकिन DLS मेथड के कारण रन रेट बेहतर हो गया। ऑस्ट्रेलिया 2.47 का रन रेट लेकर टेबल में पहले नंबर पर है। भारत का दूसरा मैच आज बांग्लादेश से एंटीगुआ में रात 8 बजे से खेला जाएगा। बांग्लादेश से भारत ने 13 टी-20 खेले, 12 जीते और महज एक गंवाया। यानी आज भारत सुपर-8 में लगातार दूसरा मैच जीत सकता है। इस जीत से टीम पॉइंट्स टेबल में टॉप पर पहुंच जाएगी। हालांकि, कंगारू टीम अपना दूसरा मैच कल सुबह 6 बजे से खेलेगी, इसे बड़े अंतर से जीतकर वह फिर से टॉप पर आ सकती है। 2 मैच जीतकर सेमीफाइनल में पहुंच सकता है भारत
सुपर-8 में 2 मैच जीतकर भी भारत सेमीफाइनल में जगह बना सकता है। क्योंकि इस कंडीशन में बांग्लादेश 2 मैच हार जाएगा और ऑस्ट्रेलिया ने भी कल अपना दूसरा मैच जीत लिया तो अफगानिस्तान की भी दूसरी ही हार होगी। यानी बांग्लादेश और अफगानिस्तान की टीमें सेमीफाइनल की रेस से बाहर हो जाएंगी, क्योंकि वह दोनों आखिरी मैच जीतकर भी 4 पॉइंट्स तक नहीं पहुंच पाएंगी। जबकि भारत और ऑस्ट्रेलिया के 4-4 पॉइंट्स हो जाएंगे। आखिरी मैच ऑस्ट्रेलिया से, इसे जीतना बहुत जरूरी
सुपर-8 के ग्रुप-1 में भारत और ऑस्ट्रेलिया 24 जून को सेंट लूसिया में एक-दूसरे से भिड़ेंगे। अभी की कंडीशन को देखें तो दोनों ही टीमें 2-2 मैच जीतने के बाद यह मैच खेलेंगी। यानी जो भी टीम सेंट लूसिया में जीतेगी, वह ग्रुप-1 में पहले नंबर पर फिनिश करेगी। वहीं, हारने वाली टीम दूसरे नंबर पर रहकर सेमीफाइनल में जगह बनाएगी। दोनों ग्रुप से 2-2 टॉप टीमें खेलेंगी सेमीफाइनल
सुपर-8 में आठ टीमों को 4-4 के 2 ग्रुप में बांटा गया है। ग्रुप-1 में भारत, ऑस्ट्रेलिया, अफगानिस्तान और बांग्लादेश हैं। वहीं ग्रुप-2 में इंग्लैंड, साउथ अफ्रीका, वेस्टइंडीज और अमेरिका हैं। दोनों ही ग्रुप के पॉइंट्स टेबल में टॉप-2 स्थानों पर रहने वाली टीमें सेमीफाइनल खेलेंगी। एक सेमीफाइनल में ग्रुप-1 की टॉपर टीम का सामना ग्रुप-2 में दूसरे नंबर पर रहने वाली टीम से होगा। इसी तरह दूसरे सेमीफाइनल में ग्रुप-2 में पहले नंबर पर रहने वाली टीम का सामना ग्रुप-1 में दूसरे नंबर की टीम से होगा। पहले नंबर पर रहकर सेमीफाइनल में पहुंचना क्यों जरूरी?
ग्रुप में टॉप पर रहना सबसे पहले तो इसीलिए जरूरी है ताकि दूसरे ग्रुप की कमजोर यानी दूसरे नंबर पर रही टीम से मुकाबला हो सके। और दूसरा कारण है, ICC का नियम। ICC ने टूर्नामेंट से पहले ही तय कर दिया था कि सेमीफाइनल अगर बारिश में रद्द हुआ तो सुपर-8 पॉइंट्स टेबल में पहले नंबर पर रहने वाली टीम को विजेता माना जाएगा। भारत का सेमीफाइनल गुयाना में, यहां तेज बारिश के आसार
ICC ने टूर्नामेंट से पहले ही तय कर दिया था कि भारत अगर सेमीफाइनल में पहुंचा तो मुकाबला गुयाना में होगा। यह मैच भारतीय समयानुसार 27 जून को रात 8 बजे शुरू होगा। इसके लिए रिजर्व डे नहीं रखा गया है, क्योंकि वेस्टइंडीज के समय के हिसाब से मैच सुबह 10:30 बजे शुरू होगा। अगर भारत के सेमीफाइनल में बारिश हुई तो 250 मिनट यानी 4 घंटे, 10 मिनट का एक्स्ट्रा टाइम मिलेगा। इसमें दोनों टीमों के बीच अगर 10-10 ओवर का खेल भी संभव नहीं हो सका तो मैच रद्द कर दिया जाएगा। इस कंडीशन में सुपर-8 ग्रुप की टॉपर टीम फाइनल खेलेगी। गुयाना में 27 जून को बारिश के 70% आसार हैं, यानी भारत को सेमीफाइनल में अपनी स्थिति मजबूत करनी है तो टीम को ग्रुप-1 में तीनों मैच जीतकर पॉइंट्स टेबल के टॉप पर फिनिश करना ही होगा। अगर टीम इंडिया ऑस्ट्रेलिया या बांग्लादेश से हारकर दूसरे नंबर पर रही तो टीम दूसरे नंबर पर रहेगी। इस सिचुएशन में सेमीफाइनल रद्द हुआ तो भारत फाइनल में भी नहीं पहुंच पाएगा। क्या दूसरे सेमीफाइनल में भी रिजर्व डे नहीं?
टी-20 वर्ल्ड कप का एक अन्य सेमीफाइनल 27 जून को सुबह 6 बजे से त्रिनिदाद में खेला जाएगा। यह मैच वेस्टइंडीज के समय के हिसाब से 26 जून को रात 8:30 बजे शुरू होगा। इस दिन भी बारिश के 70% आसार हैं, हालांकि 26 जून को अगर मैच नहीं हुआ तो 60 मिनट का एक्स्ट्रा टाइम मिलेगा। अगर फिर भी मैच नहीं हो सका तो 27 जून को रिजर्व डे रखा गया है। इस दिन 190 मिनट यानी 3 घंटे, 10 मिनट का एक्स्ट्रा टाइम मिलेगा। 27 जून को भी बारिश के 60% आसार हैं। अगर 190 मिनट में 10-10 ओवर का खेल भी संभव नहीं हो सका तो इसे भी रद्द माना जाएगा। यहां भी सुपर-8 ग्रुप के पॉइंट्स टेबल में पहले नंबर पर रहने वाली टीम को ही फाइनल का टिकट मिलेगा। यानी कुल मिलाकर बात यह है कि सुपर-8 स्टेज में टीमों ने अगर टॉप पर फिनिश नहीं किया तो उन्हें सेमीफाइनल गंवाने का नुकसान झेलना पड़ सकता है। सेमीफाइनल रद्द होने पर ग्रुप टॉपर टीमें ही फाइनल खेलेंगी। फाइनल मैच 29 जून को बारबाडोस में भारतीय समयानुसार रात 8 बजे से शुरू होगा। इसके लिए 30 जून रिजर्व डे है। शहर में इस दौरान बारिश के आसार कम हैं।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments