Monday, July 22, 2024
HomeMiscellaneous10 साल बाद टी-20 वर्ल्ड कप फाइनल में इंडिया:रोहित ने रन बनाए,...

10 साल बाद टी-20 वर्ल्ड कप फाइनल में इंडिया:रोहित ने रन बनाए, कुलदीप-अक्षर ने इंग्लैंड को ऑलआउट किया, 2022 की हार का बदला पूरा

इंडिया ने इंग्लैंड को हराकर टी-20 वर्ल्ड कप 2024 के फाइनल में जगह बना ली है। एकतरफा जीत हासिल की। कप्तान रोहित शर्मा ने रन बनाए। कुलदीप यादव और अक्षर पटेल ने इंग्लैंड को ऑलआउट कर दिया। गयाना की जिस पिच पर इंग्लिश बल्लेबाजी 103 रन पर सिमट गई, उस पिच पर रोहित की बल्लेबाजी का कॉन्फिडेंस सूर्यकुमार से कही गई एक बात से झलकता है। लियम लिविंगस्टन बॉलिंग कर रहे थे। रोहित ने सूर्या से कहा- ऊपर डालेगा तो देता हूं ना। यानी गेंद ऊपर फेंकने दो और मैं बड़ा शॉट खेलूंगा। अगली ही गेंद पर रोहित ने लिविंगस्टन को सिक्स लगाया। रोहित-सूर्या के बाद बचा हुआ काम पूरा किया कुलदीप, अक्षर और बुमराह की गेंदबाजी ने। बटलर, बेयरस्टो और ब्रुक जैसे फिरकी में उलझ गए। सॉल्ट जैसे विस्फोटक बल्लेबाज को बुमराह ने स्लोअर पर आउट कर दिया। मैच की कहानी से पहले 3 अहम बातें… 1. टीम इंडिया 10 साल बाद टी-20 वर्ल्ड कप के फाइनल में पहुंची है। इससे पहले 2014 वर्ल्ड कप में इंडिया फाइनल मुकाबले में श्रीलंका ने भारत को हरा दिया था।
2. 2024 वर्ल्ड कप में इंडिया ने इंग्लैंड को सेमीफाइनल में हराकर 2022 की हार का बदला लिया। 2022 में इंग्लैंड ने सेमीफाइनल मैच में भारत को 10 विकेट से हरा दिया था।
3. इस वर्ल्ड कप में इंडिया ने अपने सभी मैच जीते हैं और फाइनल पहुंची। वनडे वर्ल्ड कप 2023-24 में भी इंडिया ने अपने सभी मैच जीते थे, सिर्फ फाइनल में ऑस्ट्रेलिया से हारी थी। मैच का एनालिसिस… मैन ऑफ द मैच-अक्षर पटेल इंडिया की जीत के दूसरे हीरोज रोहित शर्मा: इंडियन कैप्टन ने 57 रन बनाए। 4 चौके और 2 सिक्स जड़े। रोहित ने 39 गेंदों पर 146 के स्ट्राइक रेट से यह पारी खेली। इंग्लैंड के गेंदबाजों को हावी नहीं होने दिया और रनरेट कम नहीं होने दिया। सूर्यकुमार यादव: सूर्या ने 47 रन की पारी खेली। 4 चौके और 2 सिक्स लगाए। रोहित के बाद टीम इंडिया की ओर से सबसे ज्यादा रन सूर्या ने ही बनाए। कुलदीप यादव: चाइनामैन स्पिनर कुलदीप ने 4 ओवर सिर्फ 19 रन दिए। हैरी ब्रुक, सैम करन और क्रिस जॉर्डन को पवेलियन भेजा। जसप्रीत बुमराह: इंडियन पेसर ने 2. 4 ओवर फेंके। 12 रन दिए यानी हर ओवर में साढ़े चार रन। 2 विकेट लिए। ओपनर फिल सॉल्ट और इंग्लैंड की तरफ से सिक्स लगाने वाले इकलौते बैटर जोफ्रा आर्चर को पवेलियन भेजा। इंडिया की जीत की 2 वजहें 1. रोहित-सूर्या की पार्टनरशिप
विराट कोहली सिर्फ 9 रन बनाकर आउट हो गए थे। पावरप्ले में ही ऋषभ पंत भी सिर्फ 4 रन बनाकर पवेलियन लौटे। इसके बाद रोहित और सूर्यकुमार ने 50 गेंदों पर 73 रन की पारी खेलकर भारत को लड़ने लायक टोटल तक पहुंचा दिया। ये इंडिया की तरफ से सबसे बड़ी साझेदारी थी।
2. स्पिनर्स ने इंग्लैंड को उलझाया
इंग्लैंड ने 2 स्पिनर्स इस्तेमाल किए, लियाम लिविंगस्टन और आदिल रशीद। रशीद ने 2 विकेट लिए। भारत ने स्पिनर्स इस्तेमाल किए। अक्षर, जडेजा, कुलदीप। अक्षर और कुलदीप ने 6 इंग्लिश बल्लेबाजों को आउट किया। सिर्फ 42 रन दिए यानी हर ओवर में औसत 5 रन। टर्निंग पॉइंट- जोस बटलर का विकेट: इंग्लैंड के कप्तान जोस बटलर ने 15 गेंदों पर 23 रन की पारी खेली। 4 चौके लगाए। लेकिन बटलर को अक्षर ने आउट कर दिया। इसी विकेट से इंग्लैंड मुश्किल में आ गई। बटलर ने 2022 वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में इंडिया के खिलाफ नाबाद 80 रन की पारी खेली थी। इंडिया ये मैच हार गया था। फाइटर ऑफ द मैच हैरी ब्रुक: इंग्लैंड के मिडिल ऑर्डर बल्लेबाज ने 25 रन की पारी खेली। 13 गेंदों पर 3 चौके लगाकर ये रन बनाए। जब तक क्रीज पर थे, तब तक लग रहा था कि इंग्लैंड टारगटे के करीब पहुंच सकता है। उनका विकेट कुलदीप यादव ने लिया। मैच के बाद 3 बयान मैन ऑफ द मैच: अक्षर पटेल ने कहा कि विकेट मदद कर रहा था इसलिए गेंद में ज्यादा पेस देने की कोशिश नहीं की। हमारे बल्लेबाजों ने बता दिया था कि इस विकेट पर हिट करना मुश्किल है। विजेता कप्तान: रोहित शर्मा ने कहा कि इस जीत से बहुत संतुष्ट हूं। सभी ने बहुत अच्छा काम किया। मुश्किल स्थितियों में हमने अच्छा खेला। गेंदबाजों ने शानदार बॉलिंग की। हम विराट के बारे में जानते हैं। जब आप 15 साल से खेल रहे हों तो फॉर्म मायने नहीं रखते। हो सकता है उन्होंने फाइनल के लिए बचाकर रखा हो। हम अच्छा खेल रहे हैं, फाइनल में अपना बेस्ट देंगे। हारने वाले कप्तान: जोस बटलर ने कहा कि हमने 20-25 रन ज्यादा दे दिए। क्रेडिट इंडिया को जाता है, वो जीत की हकदार है। उनके पास शानदार गेंदबाज हैं। मुश्किल पिच पर उनके पास पर्याप्त टोटल था। इस टूर्नामेंट में टीम के हर मेंबर की परफॉर्मेंस पर गर्व है। प्लेइंग-11 भारत : रोहित शर्मा (कप्तान), विराट कोहली, ऋषभ पंत (विकेटकीपर), सूर्यकुमार यादव, शिवम दुबे, अक्षर पटेल, हार्दिक पंड्या, रवींद्र जडेजा, कुलदीप यादव, अर्शदीप सिंह, जसप्रीत बुमराह इंग्लैंड : जोस बटलर (कप्तान और विकेटकीपर), फिल सॉल्ट, मोइन अली, जॉनी बेयरस्टो, हैरी ब्रूक, सैम करन, लियम लिविंगस्टन, आदिल रशीद, जोफ्रा आर्चर, रीस टॉप्ली, क्रिस जॉर्डन।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments