Sunday, July 14, 2024
HomeGovt JobsNEET मामले पर CJI की बेंच की दूसरी सुनवाई आज:8 जुलाई को...

NEET मामले पर CJI की बेंच की दूसरी सुनवाई आज:8 जुलाई को NTA, CBI, केन्‍द्र सरकार और स्‍टूडेंट्स से मांगे थे जवाब

NEET विवाद पर आज सुप्रीम कोर्ट में चीफ जस्टिस डी वाई चंद्रचूड़ की बेंच के सामने दूसरी सुनवाई होनी है। इससे पहले CJI की बेंच ने 8 जुलाई को मामले की पहली सुनवाई की थी। कोर्ट ने NEET विवाद से जुड़े 4 स्टेक होल्डर्स – NTA, CBI, केंद्र सरकार और रीटेस्ट की मांग कर रहे याचिकाकर्ताओं से रिपोर्ट मांगी थी। अब सभी स्‍टेकहोल्‍डर्स के जवाब दाखिल होने के बाद अगली सुनवाई हो रही है। CJI के अलावा, जस्टिस जे बी पारदीवाला और जस्टिस मनोज मिश्रा की डिवीजन बेंच मामले की सुनवाई करेगी। NTA ने कहा- एग्जाम की शुचिता प्रभावित नहीं हुई है
NTA ने 10 जुलाई को सुप्रीम कोर्ट को हलफनामा सौंपा। NTA ने कहा है कि पटना और गोधरा के सेंटर्स में गड़बड़ी हुई, लेकिन इन सेंटर्स के कैंडिडेट्स का परफॉर्मेंस एनालिसिस करने पर पता चला कि इसका असर पूरे एग्जाम पर नहीं पड़ा है। एग्जाम की शुचिता प्रभावित नहीं हुई है। ऐसे सेंटर्स से किसी भी कैंडिडेट ने असामान्य तौर पर बहुत हाई स्कोर नहीं किया है। वहीं, इन सेंटर्स के कैंडिडेट्स का स्कोर देश के नेशनल एवरेज स्कोर से भी कम है। 38 याचिकाओं पर एक साथ सुनवाई कर रहा है सुप्रीम कोर्ट
कोर्ट 38 याचिकाओं पर एक साथ सुनवाई कर रहा है। इनमें से 34 याचिकाएं स्टूडेंट्स, टीचर्स और कोचिंग इंस्टीट्यूट्स ने, जबकि 4 याचिकाएं नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) ने लगाई हैं। एग्जाम के दिन ही पेपर लीक के शक में 13 गिरफ्तारियां हुईं
बिहार पुलिस ने पेपर लीक के शक में 5 मई को ही 13 लोगों को गिरफ्तार कर लिया था। हालांकि, नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) ने एग्जाम के एक दिन बाद यानी 6 मई को पेपर लीक के आरोप से इनकार कर दिया था। एग्जाम के 8 दिन बाद पेपर लीक की जांच के लिए याचिका दायर हुई
NEET कैंडिडेट शिवांगी मिश्रा ने 13 मई को सुप्रीम कोर्ट में पेपर लीक की जांच करने को लेकर याचिका दायर की। इसके बाद NTA ने तय डेट से 10 दिन पहले 4 जून को ही एग्जाम का रिजल्ट अनाउंस कर दिया। अब तक 7 राज्यों से हुईं 42 गिरफ्तारियां
देशभर में 4 जून के बाद से NTA के खिलाफ लगातार विरोध प्रदर्शन जारी हैं। केंद्र सरकार ने 22 जून को NEET केस की जांच CBI को सौंप दी। अब तक पेपर लीक केस की जांच 6 राज्यों तक पहुंच चुकी है। CBI ने बिहार से 2 और झारखंड से 5 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। गुजरात से भी 4 आरोपियों को रिमांड पर पूछताछ की जा रही है। 7 राज्यों से अब तक 42 गिरफ्तारियां हो चुकी हैं। NEET से जुड़ी ये खबरें भी पढ़ें..
2023 में भी लीक हुआ था NEET का पेपर:आरोपी बोला- लेट मिला इसलिए नहीं बांट पाए, 2024 में सक्सेसफुल हुए ‘NEET 2023 एग्जाम के लिए भी हम लोगों ने कैंडिडेट्स से सेटिंग की थी, लेकिन टाइम से पेपर नहीं मिला।’ बिहार में NEET पेपर लीक के आरोपी नीतीश कुमार ने पुलिस रिमांड के दौरान ये बात कबूली है। आरोपी नीतीश ने ये भी बताया है कि 2023 की गलती से सबक लेते हुए NEET 2024 के पेपर लीक की तैयारी एक साल से चल रही थी। पूरी खबर पढ़ें NEET में फर्जी अभ्यर्थी बना जोधपुर एम्स का स्टूडेंट सस्पेंड:बिहार पुलिस के नोटिस पर कार्रवाई हुई, डॉक्टर के बेटे की जगह दी थी परीक्षा डॉक्टर के बेटे की जगह NEET देने वाले हुक्माराम को जोधपुर एम्स ने सस्पेंड कर दिया है। एम्स ने यह कार्रवाई बिहार के मुजफ्फपुर पुलिस के नोटिस पर की है। वह प्रयागराज (UP) के एक मशहूर डॉक्टर राजेश प्रसाद (RP) पांडे के बेटे राज पांडे की जगह बिहार के सेंटर पर एग्जाम देने बैठा था। पूरी खबर पढ़ें

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments