Saturday, June 15, 2024
HomeMiscellaneousअमेरिका अपना सबसे बड़ा रन चेज कर जीता:टी-20 वर्ल्डकप के पहले मैच...

अमेरिका अपना सबसे बड़ा रन चेज कर जीता:टी-20 वर्ल्डकप के पहले मैच में कनाडा ने एक ओवर में 33 रन दिए; मोमेंट्स और रिकॉर्ड्स

टी-20 वर्ल्ड कप का आगाज कनाडा और अमेरिका के बीच डलास के ग्रैंड प्रेयरी स्टेडियम पर खेले गए मुकाबले से हुआ। पावरप्ले में अच्छी शुरुआत के बाद 6वें ओवर में कनाडा का पहला विकेट गिरा। दो गेंदों बाद ही नवनीत धालीवाल रन आउट होने से बचे। जीवनदान मिलने के बाद नवनीत ने 61 रन की पारी खेली। कनाडा ने 5 विकेट खोकर 194 रन बनाए। जवाब में आरोन जोन्स की नाबाद 94 रन की पारी की बदौलत अमेरिका ने अपना सबसे बड़ा टारगेट चेज किया और मैच जीत लिया। आगे पढ़िए इस मैच 6 मोमेंट्स और 3 रिकॉर्ड्स… 1. रन आउट होने से बचे नवनीत धालीवाल
पावरप्ले के आखिरी ओवर की चौथी गेंद पर धालीवाल रन आउट होने से बचे। हरमीत सिंह की गेंद पर परगट सिंह ने लॉन्ग ऑफ पर शॉट लगाया। अमेरिका के नितीश सिंह ने अच्छी फील्डिंग कर विकेटकीपर को कैच दिया। कीपर मोनांक पटेल ने धालीवाल को रन आउट करने की कोशिश की। हालांकि, धालीवाल समय रहते क्रीज पार कर गए। 2. कोरी एंडरसन ने पहली बॉल पर लिया विकेट
अमेरिका की ओर से अपना पहला टी-20 वर्ल्ड कप खेल रहे कोरी एंडरसन ने अपने स्पेल की पहली ही गेंद पर विकेट चटकाया। उन्होंने 15वें ओवर की पहली गेंद पर कनाडा के लिए शानदार बल्लेबाजी कर रहे नवनीत धालीवाल को फुल लेंथ बॉल की। गेंद की रफ्तार धीमी होने के कारण धालीवाल लॉन्ग ऑन पर खड़े जसदीप सिंह को कैच थमा बैठे और 61 रन पर आउट हो गए। 3. एंड्रीस गौस ने कैच ड्रॉप किया
कनाडा की इनिंग के 19वें ओवर की पहली गेंद पर एंड्रीस गौस ने श्रेयस मोव्वा का कैच ड्रॉप किया। मोव्वा ने कोरी एंडरसन की गेंद पर स्क्वायर लेग पर शॉट खेला। गौस बॉल को जज नहीं कर सके और कैच ड्रॉप कर दिया। ओवर की तीसरी और चौथी गेंद पर एंडरसन को दो बाउंड्री पड़ीं। 4. कलीम सना ने दूसरी ही बॉल पर स्टीवन टेलर का विकेट लिया
195 का टारगेट चेज करने उतरी अमेरिका टीम ने अपने पहले वर्ल्ड कप के दूसरी ही गेंद पर विकेट गंवा दिया। स्टीवन टेलर बिना खाता खोले पवेलियन लौट गए। टेलर ऑफ साइड पर आती गुड लेंथ बॉल को फ्लिक करने के लिए बैकफुट पर गए, लेकिन बॉल उनके उम्मीद के मुताबिक बाउंस नहीं हुई और वो LBW हो गए। टेलर ने रिव्यू लिया, लेकिन उनका रिव्यू असफल हो गया। 5. नो बॉल के चलते बचे एंड्रीस गौस, ओवर में आए 33 रन
कनाडा के जेरेमी गॉर्डन ने मैच का सबसे महंगा और लंबा ओवर किया। 14वें ओवर की तीसरी गेंद पर एंड्रीस गौस स्क्वायर लेग पर कैच आउट हुए। लेकिन नो बॉल के चलते उन्हें जीवनदान मिला। इसके बाद फिर जेरेमी गॉर्डन ने नो बॉल की। पूरे ओवर में जेरेमी ने 3 वाइड और दो नो बॉल कराईं। वहीं, 3 छक्के और 2 चौकों की मदद से 33 रन दिए। जिसके बाद अमेरिका के लिए चेज आसान हो गया। 6. छक्के के साथ आरोन जोन्स ने जिताया मैच
195 रन का बड़ा स्कोर चेज करने उतरी अमेरिका की टीम से आरोन जोन्स ने शानदार बल्लेबाजी की। उन्होंने नाबाद 94 रन की पारी खेली और एंड्रीस गौस के साथ तीसरे विकेट के लिए 131 रन की साझेदारी भी की। प्लेयर ऑफ द मैच जोन्स ने 18वें ओवर की चौथी गेंद पर छक्का लगाकर अमेरिका को मैच जिताया। मैच में बने रिकॉर्ड्स…. 1. टी-20 वर्ल्ड कप में तीसरा सबसे बड़ा चेज
टी-20 वर्ल्ड कप के पहले मैच में अमेरिका ने कनाडा के खिलाफ अपना सबसे बड़ा 195 रन का टारगेट चेज किया। टीम ने 17.4 ओवर में टारगेट पूरा कर लिया। यह टी-20 वर्ल्ड कप में तीसरा सबसे बड़ा चेज है। इससे पहले 2016 में इंग्लैंड ने साउथ अफ्रीका के खिलाफ 230 और 2007 में साउथ अफ्रीका ने वेस्टइंडीज के खिलाफ 206 रन का टारगेट चेज किया था।​​​​​​​ 2. टी-20 वर्ल्ड कप में एक ओवर में दूसरे सबसे ज्यादा रन पड़े
अमेरिका की इनिंग के 14वें ओवर में 33 रन पड़े। कनाडा के जेरेमी गॉर्डन ने इस ओवर में तीन वाइड और दो नो बॉल फेंकी। वर्ल्ड कप के इतिहास में यह दूसरा सबसे महंगा ओवर रहा। इससे पहले 2007 में इंग्लैंड के स्टुअर्ट ब्रॉड ने भारत के खिलाफ एक ओवर में 36 रन दिए थे। 3. टी-20 इंटरनेशनल में अमेरिका की सबसे बड़ी पार्टनरशिप
टी-20 इंटरनेशनल में अमेरिका की ओर से सबसे बड़ी 131 रन की पार्टनरशिप एंड्रीस गौस और आरोन जोन्स के बीच हुई। इससे पहले मोदानी और गजानंद सिंह ने आयरलैंड के खिलाफ 110 रन की साझेदारी की थी। वहीं, इस साल अप्रैल में कनाडा से हुई 5 मैचों की टी-20 सीरीज में मोनांक पटेल और स्टीवन टेलर ने 104 रन जोड़े थे।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments