Wednesday, June 19, 2024
HomeGovt Jobsटॉप कॉलेज:दुनिया की टॉप 2000 यूनिवर्सिटीज में 64 भारतीय; पहले नंबर पर...

टॉप कॉलेज:दुनिया की टॉप 2000 यूनिवर्सिटीज में 64 भारतीय; पहले नंबर पर IIM-A, टॉप 10 में 4 IITs, ऐसे मिलेगा एडमिशन

हाल ही में सेंटर फॉर वर्ल्ड यूनिवर्सिटी रैंकिंग (CWUR) ने ग्लोबल इंस्टीट्यूशंस – 2024 की रिपोर्ट जारी की। इसमें दुनिया के टॉप 2000 बेस्ट परफॉर्मिंग इंस्टीट्यूट्स को शामिल किया गया है। इस रैंकिंग में भारत से पहले नंबर पर है – इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ अहमदाबाद (IIM-A) जबकि वर्ल्ड रैंकिंग में ये इंस्टीट्यूट 401 रैंक पर है। इस बार टॉप कॉलेज में जानते हैं CWUR-2024 में शामिल इंडियन इंस्टीट्यूटट्स के बारे में.. कुल 94 देशों की 20,966 यूनिवर्सिटीज में से टॉप 2000 की लिस्ट में 64 इंडियन इंस्टीट्यूट्स शामिल हैं। 2023 की CWUR रैंकिंग के की तुलना में इस साल 32 इंडियन इंस्टीट्यूट्स की रैंकिंग बेहतर हुई है जबकि 33 इंस्टीट्यूट्स रैंकिंग में पिछड़ गए हैं। ये रैंकिंग एजुकेशन लेवल, एम्पलॉएबिलिटी, फैकल्टी और रिसर्च के हिसाब से तैयार की जाती है। CWUR ग्लोबल इंस्टीट्यूशंस की रैंकिंग जारी करने वाली एजेंसी है। ये किसी भी सर्वे या यूनिवर्सिटी सबमिशन के आधार पर रैंकिंग जारी नहीं करती है। 1. इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट, अहमदाबाद (IIM-A)
IIM अहमदाबाद CWUR – 2024 में देश में पहले नंबर पर है। कोर्सेज: IIM अहमदाबाद में पांच साल के फुल टाइम PhD प्रोग्राम, दो साल का फुल टाइम MBA,एग्रीकल्चर और बिजनेस मैनेजमेंट में दो सालों का MBA-FBM, 1 साल का फुल टाइम पोस्ट ग्रेजुएट प्रोग्राम फॉर एग्जीक्यूटिव (MBA-PGPX), ऑनलाइन MBA और पोस्ट ग्रेजुएट प्रोग्राम्स किए जा सकते हैं। ऐसे मिलेगा एडमिशन: IIM अहमदाबाद में किसी भी स्ट्रीम में ग्रेजुएशन के बाद CAT एग्जाम क्वालिफाई कर एडमिशन ले सकते हैं। एग्जाम के बाद पर्सनल इंटरव्यू और एनालिटिकल राइटिंग टेस्ट (WAT) क्वालिफाई करना भी जरूरी है। इंटरनेशनल स्टूडेंट्स इंस्टिट्यूट में GMAT या GRE जैसे एग्जाम पास कर एडमिशन ले सकते हैं। इन प्रोग्राम्स में एडमिशन लेने के लिए 2 से 5 सालों का वर्क एक्सपीरियंस भी जरूरी है। पोस्ट ग्रेजुएट कोर्सेज के लिए MBA ग्रेजुएट्स ही अप्लाई कर सकते हैं। 2. इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस, बेंगलुरु (IISc)
IISc में 40 से ज्यादा एकेडमिक डिपार्टमेंट्स हैं। यहां एकसाथ करीब 4000 स्टूडेंट्स पढ़ाई और रिसर्च करते हैं। इंस्टिट्यूट के सभी डिपार्टमेंट साइंस या इंजीनियरिंग फैकल्टी में आते हैं। इंस्टीट्यूट में बायोलॉजिकल साइंसेज, मैकेनिकल साइंसेज, इलेक्ट्रिकल साइंसेज जैसे डिपार्टमेंट्स में सेंटर फॉर इंफेकशियस डिजीज रिसर्च, डिपार्टमेंट ऑफ माइक्रोबायोलॉजी एंड सेल बायोलॉजी, डिपार्टमेंट ऑफ सिविल इंजीनियरिंग, सेंटर फॉर क्लाइमेट चेंज जैसी यूनिट्स हैं। कोर्सेज: इंस्टीट्यूट में 4 साल का बैचलर ऑफ साइंस (रिसर्च) प्रोग्राम में एडमिशन ले सकते हैं। इस प्रोग्राम में पहले तीन सेमेस्टर्स में बायोलॉजी, फिजिक्स, केमिस्ट्री, मैथ्स, अर्थ साइंस जैसे सब्जेक्ट में स्पेशलाईजेशन ले सकते हैं। इसके अलावा साइंस स्ट्रीम से जुड़े किसी भी सब्जेक्ट में इंटीग्रेटेड PhD प्रोग्राम में भी एडमिशन ले सकते हैं। बायोलॉजिकल, केमिकल, और फिजिकल साइंसेज में 15-18 और मैथमेटिकल साइंसेज में 12-15 स्टूडेंट्स का इंटेक है। इसके अलावा इंस्टिट्यूट में MTech, MDes, मास्टर्स ऑफ मैनेजमेंट, रिसर्च और एक्सटर्नल रजिस्ट्रेशन प्रोग्राम (ERP) प्रोग्राम में एडमिशन ले सकते हैं। ऐसे मिलेगा एडमिशन: 12वीं के बाद KVPY, IIT JEE, NEET जैसे एग्जाम के बाद बैचलर्स कोर्स में एडमिशन ले सकते हैं। BTech और BArch कोर्सेज में GATE, JEST, CEED, CAT, GMAT जैसे एग्जाम क्वालिफाई करना जरूरी है। JAM या JEST के जरिए किसी भी रिसर्च और PhD प्रोग्राम में एडमिशन ले सकते हैं। 3. इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी, बॉम्बे (IIT-B)
IIT बॉम्बे में इंजीनियरिंग और टेक्नोलॉजी से जुड़े 16 डिपार्टमेंट्स हैं। इसके अलावा मैनेजमेंट, डिजाइन और आंत्रप्रेन्योरशिप से जुड़े 3 स्कूल और 40 रिसर्च सेंटर्स हैं। ये रिसर्च सेंटर्स एकेडमिक डिग्री, डिप्लोमा और सर्टिफिकेट प्रोग्राम ऑफर करते हैं। कोर्सेज : IIT-B से इन डिपार्टमेंट्स में MTech, MSc MDes, MBA, MS (रिसर्च), और मास्टर्स इन डेवलपमेंट प्रैक्टिस जैसे कोर्स कर सकते हैं। ऐसे मिलेगा एडमिशन : MSc कोर्सेज में एडमिशन के लिए JAM क्वालिफाई करना जरूरी है। वहीं, MTech प्रोग्राम्स में GATE स्कोर के बेसिस पर एडमिशन ले सकते हैं। 4. इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी, मद्रास (IIT-M)
IIT मद्रास में इंजीनियरिंग की अलग-अलग ब्रांच की पढ़ाई के लिए 15 डिपार्टमेंट्स हैं। इनमें एयरोस्पेस इंजीनियरिंग, बायोटेक्नोलॉजी, सिविल इंजीनियरिंग, इंजीनियरिंग डिजाइन, ओशयन इंजीनियरिंग और फिजिक्स के अलावा डिपार्टमेंट ऑफ ह्यूमैनिटीज एंड सोशल साइंस डिपार्टमेंट भी शामिल है। कोर्सेज : इन सभी डिपार्टमेंट्स में दो सालों का MTech, फिजिक्स, केमिस्ट्री और मैथ्स में दो सालों का MSc और ह्यूमैनिटीज में दो सालों का MA कोर्स कर सकते हैं। इसके अलावा मैनेजमेंट डिपार्टमेंट से दो सालों के MBA कोर्स में भी एडमिशन ले सकते हैं। ऑटोमेटिव टेक्नोलॉजी, मैथेमैटिकल मेथड फॉर एयरोस्पेस इंजीनियर जैसे कुछ कोर्सेज में ऑनलाइन MTech प्रोग्राम में भी एडमिशन ले सकते हैं। ऐसे मिलेगा एडमिशन : MTech कोर्सेज में GATE स्कोर की मदद से एडमिशन ले सकते हैं। वहीं, MSc में एडमिशन के लिए GATE या JAM स्कोर जरूरी है। MBA के लिए CAT स्कोर के बेसिस पर एडमिशन ले सकते हैं। 5. टाटा इंस्टीट्यूट ऑफ फंडामेंटल रिसर्च, मुंबई (TIFR)
TIFR मुंबई भारत सरकारी के डिपार्टमेंट ऑफ एटॉमिक एनर्जी के अंडर आने वाली डीम्ड टू बी यूनिवर्सिटी है। इस इंस्टीट्यूट में फिजिक्स, केमिस्ट्री, बायोलॉजी, मैथ्स, कंप्यूटर साइंस और साइंस एजुकेशन में बेसिक रिसर्च होती है। कोर्सेज : इन सभी डिपार्टमेंट्स में MSc-PhD इंटीग्रेटेड प्रोग्राम में एडमिशन ले सकते हैं। वाइल्डलाइफ बायोलॉजी और कंजर्वेशन में MSc कर सकते हैं। इसके अलावा समर रिसर्च प्रोगाम्स और PhD प्रोग्राम में भी एडमिशन ले सकते हैं। ऐसे मिलेगा एडमिशन : इन कोर्सेज में BE, BTech, ME, MTech, MSc और MS डिग्री ग्रेजुएट्स एडमिशन के लिए अप्लाय कर सकते हैं। इन कोर्सेज में GATE, NEST, JEST, JAM एग्जाम के स्कोर के बेसिस पर एडमिशन ले सकते हैं। 6. इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी, दिल्ली (IIT-D)
IIT-D में 6 स्कूल, 16 डिपार्टमेंट्स और 11 स्पेशलाइज्ड सेंटर्स हैं। इनमें केमिकल इंजीनियरिंग, एनर्जी साइंस एंड इंजीनियरिंग, मैटेरियल्स साइंस एंड इंजीनियरिंग और टेक्सटाइल एंड फाइबर इंजीनियरिंग जैसे डिपार्टमेंट्स शामिल हैं। इसके अलावा बायोलॉजिकल साइंस, पब्लिक पॉलिसी और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के लिए अलग डिपार्टमेंट्स भी हैं। वहीं, एटमॉस्फेरिक साइंस, एजुकेशनल टेक्नोलॉजी, रूरल डेवलपमेंट, ऑप्टिक्स जैसे सब्जेक्ट्स के लिए खासतौर पर डेडिकेटेड सेंटर बनाए गए हैं। कोर्सेज : इन डिपार्टमेंट्स में MTech, मास्टर्स ऑफ साइंस (MS) और PhD कोर्सेज में एडमिशन ले सकते हैं। मैनेजमेंट डिपार्टमेंट से MBA कोर्स भी कर सकते हैं। ऐसे मिलेगा एडमिशन : MTech कोर्सेज में एडमिशन के लिए GATE एग्जाम क्वालिफाई करना जरूरी है। MS कोर्सेज में GATE या JAM स्कोर के बेसिस पर एडमिशन के लिए अप्लाय कर सकते हैं। 7. यूनिवर्सिटी ऑफ दिल्ली (DU), दिल्ली
दिल्ली यूनिवर्सिटी एक सेंट्रल यूनिवर्सिटी है। यूनिवर्सिटी से 77 कॉलेजेस और 5 इंस्टिट्यूशंस एफिलिएटेड हैं। DU के कॉलेज नॉर्थ कैंपस और साउथ कैंपस में बंटे हुए हैं। DU में 2019 में डिपार्टमेंट ऑफ फाइनेंस और बिजनेस इकोनॉमिक्स की शुरुआत हुई। वहीं, 1967 से डिपार्टमेंट ऑफ कॉमर्स में पढ़ाई हो रही है। कोर्सेज: दिल्ली यूनिवर्सिटी में एप्लाइड सोशल साइंसेज एंड ह्यूमैनिटीज, मैनेजमेंट स्टडीज, सोशल साइंसेज, इंटरडिसिप्लिनरी एंड एप्लाइड साइंसेज, टेक्नोलॉजी और लॉ जैसे 15 डिपार्टमेंट्स हैं। ऐसे मिलेगा एडमिशन: DU के कॉलेजों में एडमिशन लेने के लिए CUET UG और CUET PG जैसे एग्जाम क्वालिफाई करना जरूरी है। एग्जाम के बाद काउंसलिंग के लिए DU CSAS पोर्टल पर रजिस्टर कर सकते हैं। कॉलेजों के कट ऑफ स्कोर के बेसिस पर एडमिशन मिलेगा। MBA कोर्स में एडमिशन के लिए CAT क्वालिफाई करना जरूरी है। 8. इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी, खड़गपुर (IIT-K)
IIT खड़गपुर में इंजीनियरिंग, आर्किटेक्चर, स्कूल ऑफ लॉ, मैनेजमेंट, साइंस, बायोटेक्नोलॉजी, ह्यूमैनिटीज के 19 डिपार्टमेंट्स, 8 सेंटर और स्कूल और 25 से ज्यादा रिसर्च यूनिट्स हैं। IIT-K से स्कूल ऑफ लॉ, मैनेजमेंट और साइंस स्ट्रीम के सब्जेक्ट्स में भी एडमिशन ले सकते हैं। कोर्सेज : एयरोस्पेस इंजीनियरिंग, एम्बेडड कंट्रोल एंड सॉफ्टवेयर, फूड प्रोसेस इंजीनियरिंग, सिटी प्लानिंग, मल्टीमीडिया इन्फॉर्मेशन प्रोसेसिंग जैसे कोर्सेज में MTech कर सकते हैं। इसके अलावा मैनेजमेंट डिपार्टमेंट से MBA भी कर सकते हैं। ऐसे मिलेगा एडमिशन : इन कोर्सेज में GATE या CAT स्कोर के जरिए एडमिशन ले सकते हैं। 9. एकेडमी ऑफ साइंटिफिक एंड इनोवेटिव रिसर्च, चेन्नई (AcSIR)
ये एक रिसर्च इंस्टीट्यूट है। इस इंस्टीट्यूट का हेडक्वार्टर गाजियाबाद के CSIR-ह्युमन रिसोर्स डेवलपमेंट सेंटर में है। इस इंस्टीट्यूट में फैकल्टी ऑफ साइंस में एग्रीकल्चरल साइंसेज, केमिकल साइंसेज, मैथेमैटिकल एंड इन्फॉर्मेशन साइंसेज जैसे कुल 7 डिवीजन हैं। कोर्सेज : इन सभी डिपार्टमेंट्स से PhD साइंसेज और PhD इंजीनियरिंग, इंटीग्रेटेड डुअल डिग्री प्रोग्राम, MSc, MTech, MPH, PG डिप्लोमा जैसे प्रोग्राम में एडमिशन ले सकते हैं। ऐसे मिलेगा एडमिशन : यहां साल में दो बार PhD प्रोग्राम में एडमिशन के लिए अप्लाय कर सकते हैं। CSIR, ICMR जैसे इंस्टीट्यूट्स की सिलेक्शन कमिटी फाइनल इंटरव्यू के बाद सिलेक्शन करती है। MSc कोर्सेज में GATE, NET के स्कोर के बेसिस पर एडमिशन ले सकते हैं। 10. पंजाब यूनिवर्सिटी, चंडीगढ़
ये एक स्टेट यूनिवर्सिटी है। यहां आर्ट्स, डिजाइन एंड फाइन आर्ट्स, इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी, लॉ, फार्मास्यूटिकल साइंसेज और साइंस जैसे डिपार्टमेंट हैं। कोर्सेज : आर्ट्स फैकल्टी में करीब 15 डिपार्टमेंट्स हैं। इन सभी डिपार्टमेंट्स से UG, PG और PhD कोर्सेज में एडमिशन ले सकते हैं। ऐसे मिलेगा एडमिशन : यूनिवर्सिटी में PU-CET एंट्रेंस एग्जाम के स्कोर के बेसिस पर एडमिशन ले सकते हैं।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments