Tuesday, June 18, 2024
HomeMiscellaneousपाकिस्तान पर फिर असंभव जीत, हीरोज बदले:पंत की अतरंगी बैटिंग, फर्स्ट क्लास...

पाकिस्तान पर फिर असंभव जीत, हीरोज बदले:पंत की अतरंगी बैटिंग, फर्स्ट क्लास कीपिंग; बुमराह के हर ओवर ने मैच पलटा…एनालिसिस

भारत ने एक बार फिर वर्ल्ड कप में पाकिस्तान पर असंभव जीत दर्ज की। टी-20 मैच में पाकिस्तान जैसी टीम को 120 रन ना बनाने देने की चुनौती थी। टीम इंडिया ने ऐसा करके दिखा दिया। ये रिकॉर्ड जीत है। इससे पहले कभी इंडिया ने टी-20 इंटरनेशनल में इतना छोटा स्कोर डिफेंड नहीं किया था। इंडिया की जीत के बाद विराट या रोहित का नाम नहीं गूंज रहा है। जीत के हीरोज बदल गए हैं। अब ऋषभ पंत की अतरंगी बैटिंग की चर्चा है। बुमराह की बॉलिंग ने चौंका दिया है। अक्षर पटेल का एक ओवर विनिंग फैक्टर बन गया है। हर इंडियन फैन कह रहा है…हम जीत गए। मैच न्यूयॉर्क के नसाउ स्टेडियम में खेला गया, जो बल्लेबाजों के लिए बुरा सपना बन चुकी है। यहां अब तक हुए 4 मैचों में 3 चेज करने वाली टीम जीती थी। पहले बल्लेबाजी करने वाली सिर्फ एक। इंडिया की जीत के बाद यह आंकड़ा 2 हो गया है। सिर्फ 119 का स्कोर इंडिया की जीत के लिए पर्याप्त क्यों हो गया, पढ़िए एनालिसस… 1. मैच विनर- बुमराह ने हर ओवर में पलटा गेम 2. जीत के हीरोज ऋषभ पंत
भारत की बल्लेबाजी के दौरान शुरुआत में ही नसाउ की पिच ने अपना मिजाज दिखाना शुरू कर दिया। विराट पवेलियन लौट चुके थे। दूसरे ही ओवर में क्रीज पर ऋषभ पंत आए। तीसरे ओवर में रोहित शर्मा भी आउट हो गए। हालात मुश्किल थे। पंत ने अपने अंदाज में बल्लेबाजी शुरू की। गिरकर शॉट मारा, स्विच हिट लगाई। 3 कैच भी छूटे, लेकिन पंत जानते थे कि नसाउ की पिच पर तेजी से रन बनाना जरूरी है क्योंकि बाद में बल्लेबाजी मुश्किल होती जाएगी। पंत की 42 रन की पारी की बदौलत इंडिया 119 तक पहुंची। अब विकेटकीपिंग का रोल निभाना था। 13वें ओवर में फखर जमान ने पंड्या की शॉर्ट बॉल को पुल करने की कोशिश की। गेंद हवा में ऊंची चली गई। पंत ने पीछे की ओर दौड़ लगाई और छलांग लगाते हुए कैच पकड़ लिया। 17वें ओवर में फिर हार्दिक के हाथ में गेंद थी। शादाब खान पीछे हटकर शॉट खेल रहे थे। हार्दिक ने अचानक एक तेज बाउंसर फेंकी। शादाब ने पुल करने की कोशिश की और गेंद शॉर्ट फाइनल लेग की तरफ गई। पंत ने दौड़ लगाते हुए कैच पकड़ लिया। 19वां ओवर, मैच का सबसे अहम ओवर। जीत के लिए 18 रन चाहिए थे। इमाद वसीम अर्शदीप की पहली ही गेंद पर लेग साइड की ओर हटे। अर्शदीप ने फॉलो करते हुए यॉर्कर फेंकी। बल्ले का ऐज लेकर गेंद तेजी से लेग साइड की ओर गई, लेकिन पंत अपने दाईं ओर डाइव लगाते हुए शानदार कैच पकड़ा। अक्षर पटेल
जब टीम इंडिया मुश्किल में थी, 19 रन पर 2 विकेट गिर गए थे। तब अक्षर पटेल ने खतरनाक गेंदों को रोका। ऋषभ पंत का साथ दिया और 39 रन की अहम साझेदारी की। 20 रन बनाए। गेंदबाजी करने आए तो पाकिस्तानी बल्लेबाजों को बांधे रखा। 2 ओवर में सिर्फ 11 रन दिए और उस्मान ख्वाजा का विकेट लिया। 16वां ओवर तो कमाल का था। पाक को 30 गेंदों पर 37 रन की दरकार थी। 6 गेंदों पर सिर्फ 2 रन दिए और पाकिस्तान पर दबाव बढ़ गया। इस ओवर के बाद पाकिस्तानी टीम दबाव में आ गई, क्योंकि अब उसे 24 गेंदों पर 35 रन चाहिए थे। अर्शदीप सिंह
आखिरी ओवर में पाकिस्तान को 18 रन जीत के लिए चाहिए थे। पहली ही गेंद पर विकेट लेकर दबाव बनाया। दूसरी और तीसरी गेंद पर बाउंड्री नहीं लगने दी। चौथी और पांचवीं गेंद पर नसीम शाह ने बाउंड्री लगाई पर अर्शदीप ने संयम रखा। पाकिस्तान को जीत के लिए 8 रन चाहिए थे। अर्शदीप को सिर्फ वाइड और नो-बॉल नहीं फेंकनी थी। अर्शदीप ने ऑफ स्टंप पर लो फुलटॉस फेंकी, सिर्फ एक रन बना। पाकिस्तान 6 रन से मैच हार गया। हार्दिक पंड्या
बल्लेबाजी में हार्दिक ने सिर्फ 7 रन बनाए। गेंदबाजी करने आए तो शुरुआती 2 ओवर में 19 रन दे दिए। लेकिन कप्तान रोहित ने उन पर भरोसा बनाए रखा। 13वें ओवर में फिर गेंद थमाई। हार्दिक ने फखर जमान को शॉर्ट बॉल पर आउट किया और सिर्फ 1 रन दिया। फिर 17वां ओवर लेकर आए। शादाब खान को आउट किया और सिर्फ 5 रन दिए। भारत की जीत में उनकी गेंदबाजी का अहम रोल रहा। 3. टर्निंग पॉइंट मोहम्मद रिजवान का विकेट
120 रन चेज कर रही पाकिस्तान ने 14 ओवर में 80 रन बना लिए थे और 7 विकेट हाथ में थे। इस कंडीशन में पाकिस्तान आसानी से मैच जीत रही थी। लेकिन बुमराह 15वां ओवर लेकर आए। सेट हो चुके रिजवान को पहली गेंद पर बोल्ड किया। रिजवान का आउट होना बड़ा टर्निंग पॉइंट साबित हुआ। बुमराह का 19वां ओवर
पाकिस्तान को 2 ओवर में 21 रन की जरूरत थी। ऐसे में 19वां ओवर डाल रहे जसप्रीत बुमराह ने सिर्फ 3 रन दिए। इफ्तिखार जैसे एक्सपीरियंस और खतरनाक बल्लेबाज को आउट किया। इस ओवर से पाकिस्तानी बल्लेबाजों पर प्रेशर बहुत ज्यादा बढ़ गया। 4. पाकिस्तान हार की वजहें 5. फाइटर ऑफ द मैच- नसीम शाह नसीम शाह जब गेंदबाजी करने आए तो विराट कोहली, अक्षर पटेल और शिवम दुबे जैसे बल्लेबाजों को पवेलिनय भेजा। 4 ओवर में सिर्फ 21 रन दिए। 9वें नंबर पर बल्लेबाजी करने उतरे। 20वें ओवर में 18 रन चाहिए थे, जब बल्लेबाजी करने आए। 4 गेंदों पर 250 के स्ट्राइक रेट से 10 रन भी बना दिए, लेकिन मैच नहीं जिता पाए। इस हार का दर्द भी छलक आया। नसीम रोने लगे, तब शाहीन शाह अफरीदी ने उन्हें समझाने की कोशिश की। दोनों टीमों की प्लेइंग-11 भारत: रोहित शर्मा (कप्तान), विराट कोहली, सूर्यकुमार यादव, ऋषभ पंत (विकेटकीपर), शिवम दुबे, हार्दिक पंड्या, अक्षर पटेल, रवींद्र जडेजा, जसप्रीत बुमराह, अर्शदीप सिंह और मोहम्मद सिराज। पाकिस्तान: मोहम्मद रिजवान (विकेटकीपर), बाबर आजम (कप्तान), उस्मान खान, फखर जमान, शादाब खान, इफ्तिखार अहमद, इमाद वसीम, शाहीन अफरीदी, हारिस रऊफ, नसीम शाह और मोहम्मद आमिर।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments