Saturday, June 15, 2024
HomeMiscellaneousरियल मैड्रिड 15वीं बार जीता UEFA चैंपियंस लीग:बोरुसिया डॉर्टमुंड को 2-0 से...

रियल मैड्रिड 15वीं बार जीता UEFA चैंपियंस लीग:बोरुसिया डॉर्टमुंड को 2-0 से हराया, कार्वाहाल- विनिसियस ने दागे गोल

स्पैनिश क्लब रियल मैड्रिड ने 15वीं बार यूरोपियन फुटबॉल का सबसे बड़ा टूर्नामेंट UEFA चैंपियंस लीग (UCL) का विजेता बना। शनिवार देर रात लंदन के वेम्बली स्टेडियम में टीम ने जर्मन क्लब बोरुसिया डॉर्टमुंड को 2-0 से हराया। टीम की ओर से विनिसियस जूनियर ने 84वें और डानी कार्वाहाल ने 73वें मिनट में गोल दागे। रियल मैड्रिड सबसे ज्यादा UCL जीतने का रिकॉर्ड है। अब तक 22 क्लब इसे जीत चुके है, जिसमें 15 बार इसे रियल मैड्रिड ने जीता। रियल मैड्रिड 18 बार UCL का फाइनल मुकाबला खेल चुकी है। इसके अलावा इटली के क्लब AC मिलान ने इस कप को 7 बार जीता है। डॉर्टमुंड ने अपना तीसरा फाइनल खेला। इससे पहले टीम साल 1996-97 सीजन में चैंपियन बनी थी। टीम 2012-13 और इस सीजन फाइनल में पहुंची, जहां उसे पहले अपने आर्च राइवल बायर्न म्यूनिख और फिर रियल मैड्रिड के खिलाफ हार का सामना करना पड़ा। रियल मैड्रिड की ट्रॉफी के साथ फोटो… पहले हाफ में डॉर्टमुंड पड़ी मैड्रिड पर भारी
पहले हाफ के बाद डॉर्टमुंड के फैंस थके हुए लग रहे थे, क्योंकि इस दौरान डॉर्टमुंड ने लगातार गोल के चांस बनाए, जिसे वे गोल में तब्दील नहीं कर सके। रियल मैड्रिड ने पहले हाफ में सिर्फ दो शॉट टारगेट पर लगाए, जो कि इस सीजन पहले हाफ में उनके सबसे कम शॉट रहे। वहीं, डॉर्टमुंड ने 8 शॉट गोल की तरफ मारे जिसमें से 2 गोल की ओर गए और बचा लिए गए। पहले हाफ में ऐसा लग रहा था, जैसे कि उलटफेर होने को है। 23वें मिनट में डॉर्टमुंड ने निकलस फुलक्रुग ने शानदार चांस बनाया और गोल की ओर बॉल शूट की, लेकिन बॉल गोलपोस्ट से टकराकर आ गई। दूसरे हाफ में रियल मैड्रिड का आक्रामक रुख, 9 मिनट में 2 गोल दागे दूसरे हाफ में रियल मैड्रिड ने आक्रामर रुख अपनाया और लगातार अटैक के चांस बनाए। दूसरे हाफ में मैड्रिड के मैनेजर कार्लो एंसेलोटी ने शानदार रणनीति बनाई। उन्होंने अपने अटैकिंग प्लेयर्स ने डिफेंस करने के लिए कहा। साथ ही उन्हें डॉर्टमुंड के डिफेंडर्स ने लगातार बॉल छिनने के भी हिदायत दी। यह रणनीति टीम के लिए काम कर गई। पहला गोल हेडर से आया। 57वें मिनट में रियल मैड्रिड के डिफेंडर डानी कार्वाहाल ने हेडर से गोल किया। 5 फुट 7 इंच हाइट के के कार्वाहाल ने किसी तरह कॉर्नर पर गेंद को अपने सिर से छूते हुए बॉल को नेट के अंदर पहुंचा दिया। इसके 9 मिनट बाद विनिसियस जूनियर ने गोल किया। डॉर्टमुंड के डिफेंडर मैटसन रियल मैड्रिड के प्लेयर्स के लगातार बॉल के पास आने से प्रेशर में आ गए। उनसे गलती हो गई। जिससे बॉल मैड्रिड के प्लेयर के पास चली गई और डॉर्टमुंड को इसका खामियाजा भुगतना पड़ा। विनिसियस जूनियर ने बॉक्स के बाईं ओर से गेंद को लिया और गोलकीपर कोबेल को पीछे छोड़ते हुए गोल कर दिया। टीम ने 2-0 की आसान बढ़त बना ली। मैड्रिड बना चैंपियन
90 मिनट के बाद 5 मिनट का इंजरी टाइम दिया गया। हालांकि इस दौरान डॉर्टमुंड के प्लेयर्स कुछ खास नहीं कर सके। टीम कोई भी गोल करने में नाकाम रही और रियल मैड्रिड 2-0 से जीतकर चैंपियन बन गई। 1955-56 से खेली जा रही है UEFA चैंपियंस लीग
दुनिया की सबसे बड़ी फुटबॉल लीग ‘चैंपियंस लीग’ का यह 32वां सीजन है। लीग की शुरुआत 1955-56 में हुई थी। तब यूरोपियन यूनियन ऑफ फुटबॉल एसोसिएशन (UEFA) द्वारा आयोजित लीग का नाम यूरोपियन चैंपियंस कप था। 1992 में नाम बदलकर UEFA चैंपियंस लीग कर दिया गया। हर सीजन इसमें 32 टीमें हिस्सा लेती है। इन टीमों को 8 ग्रुप में बांटा जाता है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments