Tuesday, June 18, 2024
HomeGovt JobsQS वर्ल्ड रैंकिंग 2025 में शामिल टॉप यूनिवर्सिटीज:पहले नंबर पर IISc बेंगलुरु,...

QS वर्ल्ड रैंकिंग 2025 में शामिल टॉप यूनिवर्सिटीज:पहले नंबर पर IISc बेंगलुरु, दूसरे नंबर पर DU, टॉप 500 में 5 भारतीय यूनिवर्सिटीज

हाल ही में QS वर्ल्ड रैंकिंग 2025 जारी हुई। हर साल लंदन बेस्ड हायर एजुकेशन एनालिस्ट कंपनी QS ग्लोबल लेवल पर यूनिवर्सिटीज की रैंकिंग जारी करती है। इस बार IIT बॉम्बे QS रैंकिंग में देश में पहले और दुनिया में 118वें नंबर पर है। दुनिया में टॉप 150 ग्लोबल यूनिवर्सिटीज में दो IITs
इसके बाद 150वें नंबर पर IIT दिल्ली का नंबर है। दुनिया में टॉप 150 ग्लोबल यूनिवर्सिटीज की लिस्ट में भारत से दो IITs हैं। पिछले साल दिल्ली यूनिवर्सिटी 407 रैंक पर थी। इस साल यूनिवर्सिटी ने 79 रैंक की बढ़ोतरी के बाद 328 रैंक हासिल किया है। QS वर्ल्ड रैंकिंग 2025 में भारत के टॉप 10 इंस्टीट्यूट्स में कुल 7 IITS हैं। पिछले साल की तुलना में IIT बॉम्बे की रैंकिंग में 31 रैंक का इजाफा हुआ है जबकि IIT दिल्ली की रैंकिंग में 47 रैंक की बढ़त हुई है। प्रधानमंत्री बोले – इंडियन इंस्टीट्यूट्स ने 318% सुधार किया है
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने QS रैंकिंग को लेकर कहा है कि पिछले 10 सालों में G20 देशों में से सबसे ज्यादा भारत के एजुकेशनल इंस्टीट्यूट्स ने 318% सुधार किया है। इसका सीधा असर QS वर्ल्ड रैंकिंग में भारत के प्रदर्शन में दिख रहा है। पीएम मोदी ने सभी स्टूडेंट्स, टीचर्स और पूरे एजुकेशनल इन्फ्रास्ट्रक्चर को शुभकामनाएं दी हैं। इस बार टॉप कॉलेज में जानेंगे QS रैंकिंग में IITs के अलावा शामिल भारतीय यूनिवर्सिटीज की.. 1. इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस, बेंगलुरु
IISc में 40 से ज्यादा एकेडमिक डिपार्टमेंट्स हैं। यहां एकसाथ करीब 4000 स्टूडेंट्स पढ़ाई और रिसर्च करते हैं। इंस्टीट्यूट के सभी डिपार्टमेंट साइंस या इंजीनियरिंग फैकल्टी में आते हैं। इंस्टीट्यूट में बायोलॉजिकल साइंसेज, मैकेनिकल साइंसेज, इलेक्ट्रिकल साइंसेज जैसे डिपार्टमेंट्स में सेंटर फॉर इंफेकशियस डिजीज रिसर्च, डिपार्टमेंट ऑफ माइक्रोबायोलॉजी एंड सेल बायोलॉजी, डिपार्टमेंट ऑफ सिविल इंजीनियरिंग, सेंटर फॉर क्लाइमेट चेंज जैसी यूनिट्स हैं। कोर्सेज: इंस्टीट्यूट में दो साल का मास्टर्स ऑफ साइंस MSc लाइफ साइंसेज और केमिकल साइंसेज जैसे प्रोग्राम में एडमिशन ले सकते हैं। इसके अलावा MTech, MTech रिसर्च, PhD ऐसे मिलेगा एडमिशन: IIT JAM या JEST एग्जाम के जरिए किसी भी रिसर्च और PhD प्रोग्राम में एडमिशन ले सकते हैं। 2. यूनिवर्सिटी ऑफ दिल्ली (DU) दिल्ली
दिल्ली यूनिवर्सिटी एक सेंट्रल यूनिवर्सिटी है। यूनिवर्सिटी से 77 कॉलेजेस और 5 इंस्टीट्यूशंस एफिलिएटेड हैं। DU के कॉलेज नॉर्थ कैंपस और साउथ कैंपस में बंटे हुए हैं। DU में 2019 में डिपार्टमेंट ऑफ फाइनेंस और बिजनेस इकोनॉमिक्स की शुरुआत हुई। वहीं, 1967 से डिपार्टमेंट ऑफ कॉमर्स में पढ़ाई हो रही है। कोर्सेज: दिल्ली यूनिवर्सिटी में एप्लाइड सोशल साइंसेज एंड ह्यूमैनिटीज, मैनेजमेंट स्टडीज, सोशल साइंसेज, इंटरडिसिप्लिनरी एंड एप्लाइड साइंसेज, टेक्नोलॉजी और लॉ जैसे 15 डिपार्टमेंट्स हैं। ऐसे मिलेगा एडमिशन: DU के कॉलेजों में एडमिशन लेने के लिए CUET UG और CUET PG जैसे एग्जाम क्वालिफाई करना जरूरी है। एग्जाम के बाद काउंसलिंग के लिए DU CSAS पोर्टल पर रजिस्टर कर सकते हैं। कॉलेजों के कट ऑफ स्कोर के बेसिस पर एडमिशन मिलेगा। MBA कोर्स में एडमिशन के लिए CAT क्वालिफाई करना जरूरी है। 3. अन्ना यूनिवर्सिटी, चेन्नई
अन्ना यूनिवर्सिटी में साइंस, इंग्लिश, मीडिया साइंसेज और मैनेजमेंट जैसे 18 अलग-अलग डिपार्टमेंट्स हैं। यूनिवर्सिटी में कुल 29 UG और 90 PG प्रोग्राम ऑफर किए जाते हैं। इसके अलावा यूनिवर्सिटी से एफिलिएटेड इंस्टीट्यूशंस में 41 UG और 57 PG प्रोग्राम कर सकते हैं। कोर्सेज : यूनिवर्सिटी में 5 अलग-अलग इंजीनियरिंग फैकल्टी हैं – टेक्नोलॉजी, इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग, इन्फॉर्मेशन एंड कम्युनिकेशन इंजीनियरिंग, इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग, मैकेनिकल इंजीनियरिंग, सिविल इंजीनियरिंग में एडमिशन के UG कोर्सेज में एडमिशन ले सकते हैं। यहां से जियो इन्फॉर्मेटिक्स, मरीन इंजीनियरिंग, मैकेनिकल एंड ऑटोमेशन इंजीनियरिंग, इंस्ट्रूमेंटेशन एंड कंट्रोल इंजीनियरिंग, प्लास्टिक, टेक्सटाइल, फैशन और पेट्रोलियम इंजीनियरिंग में एडमिशन ले सकते हैं। इन डिपार्टमेंट्स में PG कोर्सेज भी कर सकते हैं। ऐसे मिलेगा एडमिशन : UG कोर्सेज में एडमिशन के लिए 12वीं के मार्क्स के बेसिस पर एडमिशन ले सकते हैं। यूनिवर्सिटी अपनी मेरिट लिस्ट खुद तैयार करती है। वहीं, PG कोर्सेज में एडमिशन के लिए GATE या TANCET देना जरूरी है। अन्ना यूनिवर्सिटी का कैंपस 189 एकड़ एरिया में बसा है। इसके अलावा यूनिवर्सिटी के रीजनल और सैटेलाइट कैंपस से 20 रिसर्च सेंटर जुड़े हुए हैं। 4. जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी, दिल्ली
JNU एक सेंट्रल यूनिवर्सिटी है। यहां अलग-अलग यूनिवर्सिटी टीचिंग डिपार्टमेंट्स (UTDs) में पढ़ाई होती है। यूनिवर्सिटी में स्पेशलाइज्ड प्रोग्राम के लिए 20 डेडिकेटेड स्कूल और रिसर्च सेंटर्स भी हैं। JNU में सिर्फ स्कूल ऑफ लैंग्वेज, लिटरेचर एंड कल्चर स्टडीज, संस्कृत एंड इंडिक साइंसेज और स्कूल ऑफ इंजीनियरिंग में अंडरग्रेजुएट कोर्सेज में एडमिशन ले सकते हैं। इसके अलावा ह्यूमैनिटीज के सब्जेक्ट्स के लिए स्कूल ऑफ इंटरनेशनल स्टडीज और स्कूल ऑफ सोशल साइंसेज जैसे डिपार्टमेंट्स में पोस्ट ग्रेजुएशन के लिए एडमिशन ले सकते हैं। कोर्सेज : यूनिवर्सिटी में स्कूल ऑफ इंटरनेशनल स्टडीज, स्कूल ऑफ सोशल साइंसेज, स्कूल ऑफ लैंग्वेज, लिटरेचर एंड कल्चर स्टडीज जैसे डिपार्टमेंट्स से ह्यूमैनिटीज की पढ़ाई कर सकते हैं। स्कूल ऑफ इंटरनेशनल स्टडीज में MA इन पॉलिटिक्स एंड इंटरनेशनल स्टडीज, MA इन वर्ल्ड इकोनॉमी जैसे कोर्सेज कर सकते हैं। स्कूल ऑफ सोशल साइंसेज से MA इन एनशिएंट हिस्ट्री, मॉडर्न हिस्ट्री, जियोग्राफी, फिलॉस्फी जैसे टोटल 12 कोर्सेज में एडमिशन ले सकते हैं। वहीं, स्कूल ऑफ लैंग्वेज से फ्रेंच एंड फ्रैंकोफोन स्टडीज, MA इन जर्मन ट्रांसलेशन, हिंदी ट्रांसलेशन, रशियन, जापानीज, चाईनीज, पश्तो, लिंग्विस्टिक्स जैसे 20 कोर्सेज में एडमिशन ले सकते हैं। ऐसे मिलेगा एडमिशन : इन कोर्सेज में CUET PG के स्कोर के आधार पर एडमिशन ले सकते हैं। 5. शूलिनी यूनिवर्सिटी ऑफ बायोटेक्नोलॉजी, सोलन
ये एक UGC और AICTE अप्रूव्ड प्राइवेट यूनिवर्सिटी है। यूनिवर्सिटी के 190 ग्लोबल यूनिवर्सिटीज के साथ टाई-अप्स भी हैं। यूनिवर्सिटी में 13 अलग-अलग डिपार्टमेंट्स हैं। कोर्सेज: यूनिवर्सिटी में UG लेवल पर BCom, BDes, BTech, BPharm, BCA और PG लेवल पर LL, MPharm, MTech, MCA, MSc जैसे कोर्सेज कर सकते हैं। यूनिवर्सिटी में PhD और माइनर डिग्री प्रोग्राम्स भी हैं। ऐसे मिलेगा एडमिशन: यूनिवर्सिटी में NEET, JEE, CLAT, SAT, CAT, MAT, JRF, NET जैसे एग्जाम क्वालीफाई करने के बाद एडमिशन ले सकते हैं। 6. सावित्रीबाई फुले पुणे यूनिवर्सिटी, पुणे
ये महाराष्ट्र सरकार की स्टेट यूनिवर्सिटी है। इस यूनिवर्सिटी से 705 कॉलेज एफिलिएटेड हैं। यहां 46 टीचिंग डिपार्टमेंट्स हैं। इसे ऑक्सफोर्ड ऑफ द ईस्ट के नाम से भी जाना जाता है। यूनिवर्सिटी से लगभग 307 रिसर्च इंस्टीट्यूट्स हैं। यूनिवर्सिटी में साइंस एंड टेक्नोलॉजी, कॉमर्स एंड मैनेजमेंट और ह्यूमैनिटीज जैसे डिपार्टमेंट्स हैं। कोर्सेज : यूनिवर्सिटी से इलेक्ट्रॉनिक साइंस, जूलॉजी, फिजिक्स, केमिस्ट्री, बायोलॉजी, मराठी, हिंदी, इंग्लिश, हिस्ट्री, लॉ जैसे डिपार्टमेंट्स में ग्रेजुएशन, पोस्ट ग्रेजुएशन और रिसर्च प्रोग्राम में एडमिशन ले सकते हैं। ऐसे मिलेगा एडमिशन : 12वीं के बाद ऑनलाइन एंट्रेंस एग्जाम के जरिए इस यूनिवर्सिटी में एडमिशन ले सकते हैं। 7. सिम्बायोसिस इंटरनेशनल डीम्ड यूनिवर्सिटी, पुणे
​​​​​​​सिम्बायोसिस इंटरनेशनल एक प्राइवेट डीम्ड यूनिवर्सिटी है। यूनिवर्सिटी में लॉ, मैनेजमेंट, कंप्यूटर स्टडीज, मेडिकल हेल्थ एंड साइंसेज, मीडिया एंड कम्युनिकेशन, ह्यूमैनिटीज एंड सोशल साइंसेज, इंजीनियरिंग जैसे डिपार्टमेंट्स हैं। कोर्सेज : यूनिवर्सिटी से इन सभी डिपार्टमेंट्स में UG और PG कोर्स कर सकते हैं। ऐसे मिलेगा एडमिशन : सिम्बायोसिस एडमिशन टेस्ट के जरिए इन प्रोग्राम में एडमिशन ले सकते हैं। 8. चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी, चंडीगढ़
ये एक प्राइवेट यूनिवर्सिटी है। यहां इंजीनियरिंग, मैनेजमेंट, एनीमेशन एंड मल्टीमीडिया, आर्ट्स एंड ह्यूमैनिटीज, इकोनॉमिक्स, होटल एंड हॉस्पिटैलिटी मैनेजमेंट जैसे डिपार्टमेंट्स हैं। कोर्सेज : इन सभी डिपार्टमेंट्स से ग्रेजुएशन, पोस्ट ग्रेजुएशन और रिसर्च प्रोग्राम में एडमिशन ले सकते हैं। ऐसे मिलेगा एडमिशन : CUCET यूनिवर्सिटी एंट्रेंस टेस्ट के बेसिस पर इन सभी कोर्सेज में एडमिशन ले सकते हैं। 9. यूनिवर्सिटी ऑफ मुंबई, मुंबई
ये महाराष्ट्र सरकार की स्टेट यूनिवर्सिटी है। मुंबई यूनिवर्सिटी में ह्यूमैनिटीज, साइंस एंड टेक्नोलॉजी, कॉमर्स, लॉ एंड मैनेजमेंट और फिजिकल एजुकेशन जैसे डिपार्टमेंट्स हैं। कोर्सेज : इन सभी डिपार्टमेंट्स से ग्रेजुएशन और पोस्ट ग्रेजुएशन कोर्सेज में एडमिशन ले सकते हैं। ऐसे मिलेगा एडमिशन : यहां 12वीं के बाद MHT-CET या मेरिट बेसिस पर एडमिशन ले सकते हैं। 10. जादवपुर यूनिवर्सिटी, कोलकाता
​​​​​​​जादवपुर यूनिवर्सिटी में आर्ट्स, इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी और साइंस स्ट्रीम की पढ़ाई होती है। इसके अलावा यहां लॉ और मैनेजमेंट स्कूल भी हैं। ये पश्चिम बंगाल की स्टेट यूनिवर्सिटी है। कोर्सेज : यूनिवर्सिटी में फैकल्टी ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी में टोटल 16 UG कोर्स, 35 PG कोर्स और PhD कोर्स भी कर सकते हैं। इसके अलावा यहां UG इवनिंग 5 ईयर और PG इवनिंग 3 ईयर कोर्स भी कर सकते हैं। यहां से कंस्ट्रक्शन इंजीनियरिंग, इलेक्ट्रॉनिक्स एंड टेलीकम्युनिकेशन इंजीनियरिंग, इन्फॉर्मेशन इंजीनियरिंग, फूड टेक्नोलॉजी एंड बायो-केमिकल इंजीनियरिंग जैसे 14 अलग-अलग ब्रांच में BE/BTech कोर्स कर सकते हैं। ऐसे मिलेगा एडमिशन : यूनिवर्सिटी में एडमिशन लेने के लिए WBJEE देना जरूरी है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments